मंत्री व शिक्षा विभाग के खिलाफ नारेबाजी

जागरणसंवाददाता,शिमला:राजधानीशिमलामेंनिजीस्कूलोंकीमनमानीकेखिलाफगठितछात्रअभिभावकसंघकाआंदोलनतेजहोगयाहै।बुधवारकोशिक्षानिदेशालयकेबाहरप्रदर्शनकियाऔरशिक्षामंत्रीवशिक्षाविभागकेखिलाफनारेबाजीकी।मंचनेआरोपलगायाकिप्रदेशमेंनिजीस्कूलोंकीलूटलगातारजारीहै।हरसालनियमोंकोताकपररखकरमनमानीफीसवृद्धि,किताबों-कॉपियोंमेंधांधली,वर्दियोंकीखरीदपरकमीशनफितरतबनचुकीहै।लेकिनशिक्षाविभागकार्रवाईकरनेकेबजाएसोयाहुआहै।ऐसेस्कूलोंपरखुदनकेलकसनेकेआदेशजारीकरकार्रवाईकरनाभूलजाताहै।शिक्षाविभागकोनींदसेजगानेकेलिएछात्रअभिभावकमंचनेशिक्षानिदेशालयकाघेरावकिया।

मंचकेअध्यक्षविजेंद्रमेहराकाकहनाहैकिशिमलासहितसमूचेप्रदेशमेंनिजीस्कूलोंकोलूटचलरहीहै।आरोपलगायाकिबावजूदइसकेशिक्षाविभागइनस्कूलोंपरकार्रवाईकरनेकेबजाएइनकोसंरक्षणदेरहाहै।

1472मेंसे53स्कूलोंनेदियानोटिसकाजवाब

शिक्षाविभागने1472स्कूलोंकोनोटिसजारीकरजवाबतलबकिया,लेकिनमात्र53स्कूलोंनेजवाबदिया।इससेपताचलताहैकिशिक्षाविभागकेआदेशोंकोस्कूलगंभीरतासेनहींलेतें।निजीस्कूलएकबच्चेसे24से50हजारसालानाफीसवसूलरहेहैं,जबकिबिल्डिंगफंडऔरएडमिशनफीसकीलूटअलगहै।येस्कूलन्यायालयकेआदेशसहितसीबीएसईकीगाइडलाइनकोभीदरकिनारकररहेहैंऔरकरोड़ोंकामुनाफाकमारहेहैं।

फिरभीनहींलेतेजिम्मेदारी

निजीस्कूलोंद्वाराअभिभावकोंसेलाखोंरुपयेफीसवसूलीजारहीहै।इसकेबादभीनिजीस्कूलबच्चोंकीजिम्मेदारीलेनेसेसाफमनाकरदेतेहैं।नतोस्कूलटैक्सियोंमेंबच्चोंकीसुरक्षाकोसुनिश्चितकियागयाहैऔरनहीबसेंमानकोंकोपूराकररहीहैं।सरेआमनियमोंकीधज्जियांउड़रहीहैं,लेकिनशिक्षाविभागसबकुछजानबूझकरअनजानबनाबैठाहै।मंचकीसहसंयोजकबिंदुजोशीकाकहनाहैकिउच्चन्यायालयकेआदेशकेबादभीस्कूलटैक्सियोंमेंबच्चेठूंसठूंसकरभरेजातेहैं,लेकिनस्कूलप्रशासनकोइससेकोईसरकारनहींहै,क्योंकिटैक्सीकाकिरायासत्रशुरूहोतेहीपूरेसालकावसूललियाजाताहै।