नागरिकता कानून भारत के मुसलमानों की स्थिति को प्रभावित करेगा- अमेरिकी कांग्रेस थिंकटैंक

नईदिल्ली:भारतसरकारद्वारालाएगएनागरिकतासंशोधनकानूनकोलेकरदेशऔरदुनियामेंबवालमचाहुआहै.इसकानूनकोलेकरअमेरिकीकांग्रेसथिंकटैंककांग्रेश्नलरिसर्चसर्विस(सीआरएस)कामाननाहैकिनागरिकतासंशोधनकानूनभारतकेमुसलमानोंकीस्थितिकोप्रभावितकरसकताहै.

सीआरएसकीताजारिपोर्टमेंकहागयाहैकिसरकारएनआरसीकेसाथनागरिकतासंशोधनकानूनकेजरिएभारतकीबड़ीमुस्लिमआबादीकीस्थितिपरअसलडालसकताहै.सीआरएककेअनुसारविदेशीइसेभारतकेइतिहासकेअपमानकेरूपमेंदेखतेहैं.जिसधर्मनिरपेक्षभारतकीस्थापनामहात्मागांधीऔरपंडितजवाहरलालनेहरूनेकीथी.

सीआरएसनेअपनीरिपोर्टमेंयेभीलिखा,कईविश्लेषकोंकामाननाहैबीजेपीसरकारराजनीतिकसमर्थनकोमजबूतकरनेकेलिएभावनात्मकऔरधार्मिकमुद्दोंपरऔरअधिकनिर्भरहोकरभारतआर्थिकविकासकोकाफीधीमाकररहीहै.हालांकिसीआरएसकीरिपोर्टोंकोअमेरिकीकांग्रेसकाआधिकारिकदस्तावेजनहींमानाजाताहै.