नक्सली कब्जे से मुक्त होने के बाद भी बेटे की चिता में रतजगा कर रहे परिवार सहित रामजी

जागरणसंवाददाता,(लखीसराय)।नक्सलियोंकेकब्जेसेमुक्तहोनेकेबादचाननथानाक्षेत्रकेमहुलियागांवकेरामजीयादवपरिवारसहितरातभरनहींसोसके।मंगलवारकीरातनक्सलियोंनेकर्मवीरनहींबल्किबड़ेबेटेधर्मवीरकेसाथउनकोअगवाकियाथा।चारघंटेबादनक्सलियोंनेपितारामजीयादवकोबासकुंडडैमकेपासछोड़दिया।जबकिरामजीयादवकेपुत्रधर्मवीरयादवकोनक्सलीअपनेसाथजंगलकीओरलेतेचलागया।नक्सलियोंकेकब्जेसेमुक्तहोकरवापसघरआएरामजीयादवनेबतायाकिमंगलवारकीरातकरीबरातकेनौबजेवहघरपरबैठकरएकजेईकीमददमेंयोजनाकाप्राक्कलनबनारहाथे।तभी15-20कीसंख्यामेंहथियारबंदनक्सलीघरपरआधमका।उनसेहीपूछारामजीयादवकौनहै?जबउन्होंनेखुदकोरामजीयादवकेरूपमेंअपनापरिचयदियातोनक्सलियोंनेकहाचलोमेरेसाथ।इसदौरानघरकेबाहरमहिला-पुरूषनक्सलियोंनेनाकेबंदीकररखीथी।देखकरस्वजनोंनेरोकनाचाहा।तभीनक्सलियोंनेदहशतकेलिएघरकेपासदोराउंडफायरिगकरदी।फिररामजीकोजबरनलेजातेसमयकरीबआधादर्जनराउंडफायरिगकी।बेटाधर्मवीरअपनेपिताकोछुड़ानेकेलिएपीछाकिया।नक्सलियोंनेउसेभीअपनेकब्जेमेंकरलिया।बासकुंडडैमकेपासधर्मवीरनेअपनेपिताकोबीमारबताउन्हेंछोड़देनेतथाउसेअपनेकब्जेमेंकरलेनेकीयाचनाकी।इसओरसहमतहोकरनक्सलीनेरामजीयादवकोमुक्तकरदिया।रामजीरातकोअकेलेअपनेघरपहुंचेलेकिनअपनेबेटेकीचितामेंपरिवारसहितवेरातभरभूखेप्यासेजगेरहे।ग्रामीणएवंपड़ोसियोंकीभीड़लगीरहीऔरसबकेसबबदहवासथे।बुधवारकीसुबहरामजीयादवकेघरकेआसपासएसएलआरकेदोखोखेमिलेहैं।अगवाधर्मवीरयादवकेघरमेंरातकाखानायूंहीरखारहगया।धर्मवीरयादवकीमांकारो-रोकरबुराहालहै।रामजीयादवसेमिलीजानकारीकेअनुसारनक्सलियोंद्वारापूर्वमेंकिसीप्रकारकीकोईसूचनावधमकीनहींदीगईहै।अचानकऐसीघटनाकोअंजामदियागयाहै।गुरुवारकीशामतकभीनक्सलीकीतरफसेकोईफोननहींआया।जिससेरामजीयादवएवंउसकेपरिवारकीचिताबढ़नेलगीहै।वेलोगधर्मवीरकीसकुशलवापसीकीगुहारलगारहेहैं।ऐसेलोगोंमेंचर्चाहैकिमामलालेवीवसूलीसेजुड़ाप्रतीतहोताहै।