नशा व अंधविश्वास मुक्त भारत के निर्माण पर बल

जागरणसंवाददाता,रेवाड़ी:

वीरभगत¨सहयुवादलकेतत्वावधानमेंवीरभोग्यावसुन्धरादेशभक्तिकार्यक्रमकाआयोजनसरस्वतीसीनियरसेकंडरीस्कूलभाड़ावासरोडमेंकियागया।कार्यक्रममेंउपस्थितलोगोंकोनशेसेदूररहनेकासंकल्पभीदिलायागया।

कार्यक्रममेंमुख्यातिथिप्रमुखसमाजसेवीप्रो.अनिरुद्धयादवनेकहाकिहमारादेशभारतप्राचीनकालसेमहावीरहनुमान,भीमजैसेवीरोंकादेशरहाहै,लेकिनआजनशेवअंधविश्वासकीचपेटमेंआकरहमअपनेदिव्यस्वरूपकोभूलसेगएहैं।उन्होंनेयुवापीढ़ीसेनशेसेदूररहनेकाभीआह्वानकिया।कार्यक्रमकेआयोजकयुवादलकेप्रधानदिनेशकपूरनेकहाकिआजकाविद्यार्थीकलकाराष्ट्रनिर्माताहै।हमकोनशेकीदुष्प्रवृतिसेदूररहतेहुए,अंधविश्वासकीकमजोरियोंकोजीवनसेहटातेहुए,अपनेपुरुषार्थऔरकड़ीमेहनतकेबलपरनएभारतकानिर्माणकरनाहै।

प्राचार्यराजेशयादवनेकहाकिवीरपुरुषहीधरतीकेसभीऐश्वर्यकाउपयोगकरतेहैं।¨सहकीकभीबलिनहींदीजातीहमेशाभेड़बकरीकीहीबलिदीजातीहै।उन्होंनेकहाकिहमेंनशेऔरअंधविश्वारसकोहटातेहुएमिलकरआगेबढ़नाचाहिए।जलवाडांसअकेडमीकेनिदेशकपरवीनठाकुरनेसभीकोनशामुक्तिकीशपथदिलाई।संचालनअध्यापकराधेश्यामवशिष्ठनेकिया।कार्यक्रममेंसुनीताउप्पल,रितुकुमारी,सरितायादव,संतोष,कविताजोशी,बरखायादव,पूनम,सपना,राखी,अनितायादव,वंदना,मीनू,प्रीति,संजयकुमार,सूबे¨सह,जोगेन्द्रयादव,संदीपयादव,मंजूयादव,संगीता,¨पकी,सुमित्रा,सोनियाअग्रवालआदिमौजूदथे।