पानी के मुद्दे पर हरियाणा सरकार के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट जाएगी दिल्ली सरकार- राघव चड्ढा

नईदिल्ली:दिल्लीमेंपानीकीकिल्लतकोलेकरहोरहीराजनीतिकेबीचअबदिल्लीसरकारसुप्रीमकोर्टकादरवाजाखटखटाएगी.दिल्लीजलबोर्डकेउपाध्यक्षराघवचड्ढानेकहाकिहरियाणासरकारनेदिल्लीकीपानीआपूर्तिकोरोकाहैइसेलेकरदिल्लीसरकारसुप्रीमकोर्टजाएगीऔरकोर्टसेमामलेकीजल्दसेजल्दसुनवाईकरनेकाआग्रहकरेगी.उन्होंनेकहाकिदिल्लीमेंवजीराबादपॉन्डपरयमुनानदीकास्तर674.5फीटहोनाचाहिए.जबकिअबयमुनाकाजलस्तरघटकर667फीटपरआगयाहै,यानिकीपूरीनदीसूखगईहै.पानीकममिलनेकीवजहसेचंद्रवालवॉटरट्रीटमेंटप्लांटकीक्षमता90एमजीडीसेघटकर55एमजीडी,वजीराबादप्लांटकी135एमजीडीकेघटकर80एमजीडीऔरओखलाप्लांटकी20एमजीडीसेघटकर12एमजीडीरहगईहै.

हरियाणासरकारपरदिल्लीकेहिस्सेकापानीरोकनेकाआरोपलगातेहुएराघवचड्ढानेकहाकिदिल्लीलैंडलॉकशहरहै,दिल्लीकेपासअपनीकोईवाटरबॉडीनहींहै.दिल्लीहमेशासेपानीकीआपूर्तिकेलिएपड़ोसीराज्योंपरनिर्भररहाहै.दिल्लीनेकईदशकपहलेपड़ोसीराज्योंकेसाथसंधियांसाइनकीहैं.इसकेअलावासुप्रीमकोर्टकाआदेशहै,जिसकेमुताबिकउत्तरप्रदेशसरकारगंगानदीकेजरिए,हरियाणासरकारयमुनानदीसेऔरपंजाबकीसरकारभाखड़ानागलसेदिल्लीवालोंकोनिर्धारितपानीदेगी.सुप्रीमकोर्टद्वारातयकीगईसंधियोंपरऔपचारिकतौरपरराज्योंकीसरकारोंनेहस्ताक्षरकिएहैं.औरइसीकेहिसाबसेआजतकदिल्लीमेंपानीकीआपूर्तिकीजातीहै.

DJBउपाध्यक्षनेकहाकिइसबारजोचीजेंहमदेखरहेहैंवहआश्चर्यजनकहैं.हरियाणासरकारनेदिल्लीकेहककापानीरोकलियाहै.दिल्लीकीतरफपानीकानहींआनेदियाजारहाहैजिसकेचलतेदिल्लीमेंयमुनानदीकेमाध्यमसेजोपानीआताहै,उसकास्तरगिरगयाहै.दिल्लीमेंवजीराबादपॉन्डपरयमुनानदीकास्तर674.5फीटहोनाचाहिए,उसमेंअगरएकफीटकीभीकमीआजाएतोपूरीदिल्लीमेंत्राहिमाममचजाताहै.लेकिनअबयमुनाकाजलस्तर674.5सेघटकर667फीटपरआगयाहै,यानीकीनदीपूरीतरीकेसेसूखगईहै.सुप्रीमकोर्टने1995मेंतयकियाथाकिहरियाणाकोतयलिमिटतकपानीरोजानादिल्लीकोदेनाहैलेकिनहरियाणानेइसमें120एमजीडीकीकटौतीकरदीहै.ऐसेमेंदिल्लीजलबोर्डनेफैसलाकियाहैकिहमहरियाणासरकारकेखिलाफसुप्रीमकोर्टजाएंगेऔरदिल्लीवालोंकेअधिकारकेलिएगुहारलगाएंगे.

लखनऊकेकाकोरीसेअलकायदाकेदोआतंकीगिरफ्तार,मंडियावसेभीएकसंदिग्धहिरासतमें,सीरियलब्लास्टकीथीसाजिश