पानी की बूंद-बूंद के लिए तरस रहे इस्माइला के ग्रामीण, नहीं मिलता पानी

संवादसहयोगी,सांपला:एकतरफसरकारलोगोंकोमूलभूतसुविधादेनेकेनामपरकरोड़ोंरुपयेकाबजटखर्चकररहीहै।इसकेबावजूदआजभीइस्माइलाकेग्रामीणसुविधाओंकेलिएतरसरहेहैं।ग्रामीणोंकोबिजली-पानीजैसीमूलभूतसुविधाकेअभावमेंपरेशानीकासामनाकरनापड़रहाहै।समस्याकेसमाधानकेलिएशासनवप्रशासनसेगुहारलगाचुकेहैं,लेकिनअधिकारियोंकेकानोंपरजूतकनहीरेंगरही।करीब12हजारकीआबादीवालेइस्माइलागांवमेंदोपंचायतेंहै।दोनोंपंचायतोंमेंअलग-अलगजलघरोंकानिर्माणहोरखाहै।दोजलघरमेंचारवाटरटैंकहोनेकेबावजूदगांवमेंपानीकीसमस्यारहतीहै।पाइपलाइनडालेजानेकेबादभीघरोंमेंपानीनहीपहुंचपाताहै।गांवकीगलियोंमेंपाइपलाइनटूटीहुईहै।जिसकारणअक्सरबदबूदारपानीपीनापड़ताहै।खासबातयहहैकिगांवमेंकरीबचारवर्षपहलेलाखोंरूपयेखर्चकरकेवाटरटैंककानिर्माणकियागयाथा,लेकिनआजतकउसकाकनेक्शनपानीकीसप्लाईकेलिएनहीजोड़ागया।-ग्रामीणअनुपखत्रीकाकहनाहैकिपेयजलकीसुविधाकेनामपरसरकारनेकरोड़ोंरुपयेखर्चकिये,लेकिनजनस्वास्थ्यविभागकेअधिकारियोंकीलापरवाहीकेकारणग्रामीणोंकोपानीकीसमस्यासेजुझनापड़रहाहै।उनकाकहनाथाकिगांवमेंचारवर्षपहलेनयेवाटरटैंककानिर्माणकियाथा।वहभीसफेदहाथीबनकररखगया।

-जयपालकाकहनाहैकिगांवमेंपानीकीपाइपलाइनटूटीपड़ीहै।पानीघरोंमेंपहुंचनेकीबजायगलियोंमेंबहरहाहै।विभागकीतरफसेपानीकीसप्लाईकममात्रामेंहोनेकेकारणखुदहीअपनेस्तरपरपानीकीव्यवस्थाकरनीपड़रहीहै।

-सोमबीरखत्रीकाकहनाहैकिपानीकीसमस्यासबसेगंभीरहै।कईबारतोपीनेकापानीभीनसीबनहींहोता।बार-बारअधिकारियोंसेगुहारलगाचुकेहैं,लेकिनहालातजसकेतसबनेहुएहैं।

-जोगेन्द्रसिंहकाकहनाहैकिगांवमेंबनाएगएवाटरटैंकोंमेंगंदगीजमाहोरखीहै।गांवमेंपानीकीसमस्याइतनीविकटहैकिदूर-दराजसेपीनेकापानीलाड़ापड़रहाहै।याफिरखरीदनापड़रहाहै।

-ग्रामीणसत्याकाकहनाहैकिअक्सरपानीआताहैअगरआताभीहैतोगंदारहताहै।जिसकारणलोगभीबीमारपड़रहेहैं।ग्रामीणपानीकीसमस्यासेऊबचुकेहैं।इसकास्थाईसमाधानहोनाचाहिए।अधिकारीनहींकररहेसमाधान:सरपंचप्रतिनिधि

गांवमेंपानीकीसमस्याकोलेकरइस्माइला-9बीकेसरंपचप्रतिनिधिलीलाठेकेदारकाकहनाथाकिगांवमेंपानीकीसमस्याबहुतज्यादाहै।गांवमेंवाटरटैंकहोनेकेबावजूदग्रामीणपेयजलसेजूझरहेहैं।गांवमेंपानीकीसमस्याकोलेकरकईबारअधिकारियोंसेशिकायतकीगईहै,लेकिनअधिकारीकोईसमाधाननहीकररहेहैं।