पीतांबरी सरसों के तेल से आएगा देसी घी का स्वाद

जागरणसंवाददाता,बदायूं:कृषिविभागनेकिसानोंकोबांटनेकेलिएइसबारपीतांबरीसरसोंमंगवाईहै।इससेपहलेयहसरसोंकृषिविभागकोनहींमिलतीथी।इससाललखीमपुरखीरीमेंतैयारकिएगएइससरसोंकेबीजकोयहांमुहैयाकरायागयाहै।कृषिविभागकेजानकारोंकादावाहैकिइसकेतेलमेंदेसीघीजैसास्वादआएगा।एकहेक्टेयरमें20से25क्विटलपैदावारहोगी।कृषिविभागनेसभीबीजगोदामोंपरइससरसोंकोभेजाहै।वहांसे40प्रतिशतअनुदानपरकिसानोंकोबीजमुहैयाकरायाजाएगा।कृषिविभागअबसरसोंकीखेतीकोबढ़ावादेनेकेलिएअच्छीपैदावारकेबीजकीतलाशकररहाहै।पिछलेदिनोंपीलीसरसोंकीडिमांडआईतोकृषिविभागकेजिम्मेदारोंनेउसकीतलाशशुरूकी।करीब10क्विटलबीजकीडिमांडशासनसेकी।जिसपरपीतांबरीनामकसरसोंकाबीजजिलेमेंभेजाहै।करीबदोक्विटलबीजपहलेचरणमेंपहुंचाहै।कृषिविभागनेइसबीजकीपैदावारकेबारेमेंकिसानोंकोजागरूककरनाशुरूकरदियाहै।

पीतांबरीसरसोंकेतेलमेंदेसीघीजैसास्वादहोगा।सेहतकेलिहाजसेभीइसकेतेलकासेवनकाफीलाभदायकहै।इसकीपैदावारभीअन्यसरसोंकेमुकाबलेकाफीअच्छीहैऔरसभीबीजकेंद्रोंपरबीजभेजदियागयाहै।

-डॉ.रामवीरकटारा,उपनिदेशककृषिविभाग