पुरचाइन ड्रेन खेती पर ग्रहण, किसानों को मिलता सिर्फ आश्वासन

केसरीमिश्र,सुलतानपुर:धानकीफसलपानीभरनेसेसड़गई।अधिकपानीनहोनेसेखेतपरतीपड़ेहैं।दशकोंसेकिसानपुरचाइनड्रेनकीसफाईकीमांगकरतेआरहेहैं।प्रत्येकचुनावमेंयहमुद्दाभीउठताहै।नेताआश्वासनभीदेतेहैं,लेकिनवोटलेनेकेबादचुनावीवादाभूलजातेहैं।

सबईगांवमेंसैकड़ोंबीघेकातालाबहै।इसकापानीबगलसेगुजरीपुरचाइनड्रेनसेनिकालेजानेकीव्यवस्थाकीगईथी,लेकिनड्रेनकेनिर्माणकेबादसेअबतकसफाईनहींहुई।इससेपानीनिकलनहींपाता।इसकारणखेतजलमग्नरहतेहैं।

यूपीडाकेअधिकारियोंनेदियाथाआश्वासन:

पूर्वाचलएक्सप्रेसवेकेनिर्माणकेसमययूपीडाकेअधिकारियोंनेतालाबकीस्थितिबदलनेवड्रेनकीसफाईकरवाएजानेकाआश्वासनदिया।तालाबकेबीचोबीचसेमार्गनिर्माणहोजानेकेबादअधिकारियोंनेध्याननहींदिया।

इनगांवोंकेकिसानप्रभावित:

सबई,मौकेडीह,चोरमा,जयसिंहपुरखुर्द,मघईपुरसहितकईगांवोंकेकिसानोंकीजमीनड्रेनसेप्रभावितहै।अधिकबारिशहोनेपरइसकादायराबढ़जाताहै।गतवर्षजलभरावहोनेसेसैकड़ोंबीघाधानकीफसलजहांसड़गई,वहींइसबारकिसानगेहूंकीबोआईनहींकरसके।इससेखेतखालीपड़ेहैं।

किसानोंनेबयांकियादर्द:

कईबारजिलाधिकारीकोड्रेनकीसफाईकेलिएप्रार्थनापत्रदिया।खुदमुलाकातकी,लेकिनकुछनहींहुआ।धानकीसारीफसलपानीमेंडूबकरसड़गई।गेहूंकीबोआईनहींहोपाईहै।

-सुरेंद्रवर्माएडवोकेट,सबई-ड्रेनकानिर्माणआजादीसेपहलेहुआथा,लेकिनउसकेबादसेअबतकइसकीसफाईनहींहुई।इससेइसक्षेत्रमेंसैकड़ोंबीघेजमीनजलनिकासीनहोनेसेपरतीरहजातीहै।कारण,फसलोंकीबोआईकरनाखतरेसेखालीनहींहै।

-रामप्रसाद,सबई-इसबारखेतमेंपानीकुछकमथा।धानरोपेथे,लेकिनअचानकखेतोंमेंपानीभरगया।इससेपूरीफसलखेतमेंहीसड़गई।कईबारजनप्रतिनिधियोंकोइसबाबतअवगतकरायागया,लेकिननतीजाकुछनहींनिकला।

-रामनरेश,सबई-ड्रेनकीसफाईकरायाजानानितांतआवश्यकहै।हरचुनावमेंयहमुद्दाउठताहै,लेकिनचुनावकेसमयसभीआश्वासनदेतेहैं।बादमेंकुछनहींहोताहै।अबतोगांवसेपलायनकरनामजबूरीहै।

-श्यामलालनिषाद,मौकेडीह