पूर्व अकाली सरपंच समेत दो दर्जन परिवार शिअद छोड़ कांग्रेस में हुए शामिल

संवादसहयोगी,काहनूवान:

शिरोमणिअकालीदल(शिअद)बादलकोविधानसभाक्षेत्रकादियांमेंउससमयबड़ाझटकालगाजबपार्टीकेपूर्वसरपंचऔरकरीबदोदर्जनपरिवारकांग्रेसपार्टीमेंशामिलहोगए।राज्यसभासदस्यप्रतापसिंहबाजवाकीअध्यक्षतामेंगांवभट्टियांमेंजोनस्तरकासरपंचलखविदरजीतसिंहभट्टियांवसाथियोंकेप्रबंधोंमेंएककार्यक्रमआयोजितकियागयाथा।कार्यक्रममेंभागलेतेहुएराज्यसभासदस्यप्रतापसिंहबाजवानेउपस्थितसभीकार्यकर्ताओंऔरसहयोगियोंसेबातकीऔरआगामीचुनावपरचर्चाकी।इसमौकेपरपदाधिकारियोंनेकहाकिचुनावमेंजीतनेकेलिएएक-एककार्यकर्ताकीमेहनतकामआतीहै,किसीकोकमवज्यादानहींआकाजासकता,हरइंसानकीमेहनतकामआतीहै।

उन्होंनेपूर्वसरपंचरणदीपसिंहमाहनीऔरनिर्मलसिंहकेधड़ेकाकांग्रेसपार्टीमेंशामिलहोनेपरस्वागतकिया।उन्होंनेकहाकिआजलोगकांग्रेसपार्टीकीनीतियोंऔरबाजवापरिवारद्वाराकिएगएकार्योंकेलिएकांग्रेसपार्टीमेंशामिलहोरहेहैं।उन्होंनेकहाकिउपस्थितसम्मानितसज्जनोंऔरमतदाताओंकोपार्टीद्वाराहरस्तरपरविशेषसम्मानदियाजाएगाऔरआवश्यककार्यप्राथमिकताकेआधारपरकिएजाएंगे।प्रतापसिंहबाजवाकीमौजूदगीमेंपूर्वसरपंचरणदीपसिंहमाहनीनेकहाकिप्रतापसिंहबाजवाकादियांविधानसभाक्षेत्रहीनहींपूरेपंजाबकानेतृत्वकरनेमेंसक्षमहैं।इसकेअलावाउन्होंनेअकालीदलकेबजायकांग्रेसमेंकामकरनेकोप्राथमिकतादीहै।इसमौकेपररछपालसिंह,अवतारसिंह,सज्जनशर्मा,लाभरामकेअलावाअन्यउपस्थितथे।