राघोपुर में बाढ़ से स्थिति भयावह, गांवों से निकलने के सारे रास्ते बंद

संवादसूत्र,राघोपुर:

गंगाकेजलस्तरमेंजारीवृद्धिसेराघोपुरदियारामेंबाढ़कीस्थितिभयावहहोतीजारहीहै।गांवोंसेनिकलनेकेसारेरास्तेबंदहोचुकेहैं।स्थानीयप्रशासनद्वारालोगोंकोनावमुहैयानहींकराएजानेकेकारणलोगपहलेसेघरोंमेंरखेसामानसेकिसीतरहअपनाकामचलारहेहैं।प्रखंडकेदर्जनोंगांवोंमेंघरोंमेंपानीप्रवेशकरचुकाहै।लोगसामानकोसुरक्षितकरनेमेंजुटेहैं।इधरगंगाकेजलस्तरमेंवृद्धिकासिलसिलाजारीहै।बीमारएवंलाचारलोगोंकोइलाजकेलिएस्वास्थ्यकेंद्रपहुंचानेकेलिएकोईसाधननहींहै।गांवचारोंओरपानीसेघिरेहैं।जानजोखिममेंडालकरलोगअपनाकामकरतेहैं।

ज्ञातहोकिपिछलेसातदिनोंसेराघोपुरप्रखंडकी20पंचायतोंकेसभीगांवोंकेलोगबाढ़केपानीसेघिरेहैं।स्थानीयप्रशासनद्वारालोगोंकोपर्याप्तसुविधामुहैयानहींकराएजानेसेरोषव्याप्तहै।खासकरबाढ़मेंफंसेबच्चोंकोखाने-पीनेमेंकाफीदिक्कतहोरहीहै।प्रखंडकीमुख्यसड़कपरपानीभरजानेकेकारणलोगोंकाआवागमनबंदहोगयाहै।कईग्रामीणसड़कोंसेमुख्यसड़ककासंपर्कभंगहोचुकाहै।प्रखंडमेंसैकड़ोंएकड़मेंलगीमक्का,धानऔरजनेराकीफसलबर्बादहोगईहै।

सबसेबड़ीसमस्याजानवरकेलिएचाराकाजुगाड़करनाहै।चारोंतरफपानीहीपानीहै।खेतोंमेंपानीभरजानेकेकारणदियाराइलाकेकेपशुपालकोंकेसामनेचाराकीसमस्याउत्पन्नहोगईहै।जिनकेमवेशीपहलेखेतोंमेंघासचरकरपेटभरलेतेथे,उनकीहालतआजदयनीयहै।पशुपालनराघोपुरदियाराक्षेत्रमेंकुटीरउद्योगकीतरहहै।अधिकतरलोगखेतीएवंपशुपालनपरनिर्भरहैं।प्रखंडकीवीरपुर,जुड़ावनपुरकरारी,बरारी,चकसिगार,राघोपुरपूर्वी,पश्चिमी,पहाड़पुरपूर्वीएवंपश्चिमी,जफराबाद,जहांगीरपुर,रुस्तमपुर,फतेहपुर,मोहनपुर,फतेहपुर,रामपुरश्यामचंदसमेतप्रखंडकी20पंचायतेंबाढ़सेप्रभावितहैं।

प्रखंडमुखियासंघकेअध्यक्षविनयभूषणउर्फमंटूयादवकेनेतृत्वमेंकईपंचायतोंकेमुखियोंनेअलग-अलगपंचायतोंमेंप्रशासनद्वारानावकीव्यवस्थानहींकरनेपरनाराजगीजताईहै।मुखियासंघकेअध्यक्षनेबतायाकिपिछलेसातदिनोंसेपंचायतोंमेंबाढ़कापानीफैलाहुआहै।लोगोंकोकाफीकठिनाईहोरहीहै।लेकिनस्थानीयप्रशासनद्वारापर्याप्तनावोंकीव्यवस्थानहींकीगईहै।जुड़ावनपुरकरारीपंचायतकेमुखियापतिमंटूसिंह,बरारीपंचायतकेमुखियाकिशोरीराउत,पहाड़पुरपश्चिमीपंचायतकेमुखियापतिमंटूकुमारठाकुर,राघोपुरपूर्वीपंचायतकीमुखियामोनादेवी,पूर्वउपप्रमुखप्रियारानीसमेतकईपंचायतोंकेमुखिया,पंचायतसमितिसदस्योंनेस्थानीयप्रशासनकेखिलाफनाराजगीजताईहै।

इधरलोगोंकाकहनाहैकिराघोपुरअंचलकार्यालयकेद्वारापंचायतोंमेंभेजीगईछोटी-बड़ीनावेंकाफीपुरानीहैं।सीओपेपरपरहीसाराकामकररहेहैं।जानकारीकेअनुसारकुछनावोंकोजनप्रतिनिधिअपनीसुविधाकेअनुसारचलवारहेहैं।प्रखंडकेरामशरणसिंहइंटरविद्यालयजुड़ावनपुर,उच्चविद्यालयरामपुर,पृथ्वीसिंहउच्चविद्यालयजहांगीरपुर,जुड़ावनपुरथानाक्वार्टरमेंपानीघुसगयाहै।प्रखंडकेकईमध्यएवंप्राथमिकविद्यालयोंमेंपानीभराहै।प्रखंडकेप्रभारीशिक्षापदाधिकारीनेसभीविद्यालयोंकोतत्कालबंदकरनेकाआदेशदियाहै।जुरावनपुरप्रभारीथानाध्यक्षसुबोधकुमारसिंहनेबतायाकिथानाक्वार्टरकेसभीकमरोंमेंपानीआजानेकाफीपरेशानीहोरहीहै।खासकररात्रिमेंसांप-बिच्छूआदिभयबनाहुआहै।उन्होंनेबतायाकिराघोपुरअंचलाजिलाधिकारीद्वारादोछोटीनावेंदीगईहैंजिससेगश्तीकरनेमेंभीकाफीपरेशानीहोरहीहै।

इधरशिवनगरबिदामार्केटकेनिकटदर्जनोंपरचूनएवंकिरानादुकानोंमेंपानीघुसजानेकेबाददुकानदारोंनेअपनी-अपनीदुकानोंसेसामाननिकालकरसुरक्षितबिदामार्केटमेंरखदियाहै।दुकानदारविकासकुमार,राकेशकुमार,टुनटुनराय,शंभुशाह,जयलालराय,भुल्लूराय,निप्पूसा,मुन्नासाह,रंजीतशाह,रतनकुमारनेबतायाकिबाढ़केपानीआनेसेहजारोंकानुकसानहुआहै।बिदुपुरप्रखंडकेकईगांवोंमेंबाढ़कापानीघुसा

संवादसूत्र,बिदुपुर:

बिदुपुरप्रखंडकेदियाराक्षेत्रमेंनिरंतरगंगानदीकेजलस्तरमेंहोरहीवृद्धिकेकारणकईनएगांवोंमेंबाढ़कापानीप्रवेशकरगयाहै।हजारोंएकड़भूमिमेंलगीफसलडूबगईहै।किसानोंकोकाफीक्षतिपहुंचीहै।मवेशीपालकोंकेलिएखेतसेचारालानाभीसमस्याहै।चेचरपंचायतकेवार्ड10एवं11गोकुलपुरगांवमेंबाढ़कापानीभरगयाहै।इसगांवमेंस्थितप्राथमिकविद्यालयगोकुलपुरकेचारोओरपानीफैलगयाहै।विद्यालयकेप्रांगणमेंभीपानीभरगयाहै।वहींआगनवाड़ीकेंद्र242एवं243भीबाढ़कीचपेटमेंआगएहैं।प्रखंडकीअन्यपंचायतजुड़ावनपुरकेपांचवार्ड,चेचरकेदोवार्ड,बाजितपुर,कथौलिया,सैदपुरगणेशपंचायतकेतीनवार्ड,कंचनपुरपंचायतकेचारवार्डमेंबाढ़कापानीघरोंतकमेंपहुंचगयाहै।जबकिरजासन,माइल,दाउदनगर,खिलवत,बिदुपुर,शीतलपुरकमालपुर,आमेर,नावानगर,दिलावरपुरगोवर्धनआदिपंचायतकीहजारोंएकड़भूमिमेंलगीफसलबाढ़मेंडूबगईहै।मक्काएवंसब्जीकीफसलकोकाफीनुकसानपहुंचाहै।

चेचरपंचायतकीमुखियामीनादेवीएवंउनकेपतिसत्यानन्दभगतनेस्थानीयप्रशासनएवंजिलाप्रशासनसेगोकुलपुरगांवकेबाढ़पीड़ितोंकेबीचराहतसामग्रीवितरितकरनेएवंफसलक्षतिकामुआवजादेनेकीमांगकीहै।वहींमवेशीकेलिएचाराकाप्रबंधकरनेकीमांगकीहै।उधरजुड़ावनपुरपंचायतकेविशनपुरसैदअलीदियाराकेपांचवार्डोंमेंबाढ़कीस्थितिकाफीभयावहबनीहुईहै।सैदपुरगणेशपंचायतकेमुखियाकमलकुमारउर्फअरुणकुमारनेभीबाढ़पीड़ितोंकोसहायतादेनेकीमांगकीहै।चेचरपंचायतकेमुखियापतिसत्यानन्दभगतनेबतायाकिगोकुलपुरगांवकेरणजीतकुमार,रामजीसिंह,सत्तनराय,भुलेटनराय,महेंद्रराय,परमहंसराय,प्रयागराय,रामजन्मराय,रामचन्द्रपासवान,गणेशपासवान,जोधापासवान,रामईश्वरराय,हरिवंशपासवान,लालादास,रामप्रीतराय,दिलीपकुमार,रामनाथपासवानआदिकेघरपूरीतरहबाढ़केपानीमेंघिरेहुएहैं।