राहुल साक्षात्कार दो अंतिम

कांग्रेसअध्यक्षनेकहा,‘‘अगरनरेंद्रमोदी15लोगोंकोसाढ़ेतीनलाखकरोड़रुपयेदेतेहैंतोउसेलोकलुभावननहींमानाजाता।तोफिरगरीबोंकोफायदापहुंचानेकेमकसदसेतैयारन्याययोजनाकोइसनजरिएसेक्योंदेखाजानाचाहिए।’’नोटबंदीकोलेकरप्रधानमंत्रीपरतंजकसतेहुएगांधीनेकहा,‘‘हमजल्दबाजीमेंनहींहैं।हमविशेषज्ञोंसेविचार-विमर्शकिएबिना,नोटबंदीऔरजीएसटीजैसेकदमनहींउठासकते।हमनेविचार-विमर्शकियाऔरपरखाभीहै।‘न्याय’वित्तीयरूपसेपूरीतरहक्रियान्वयनयोग्यहै।’’कांग्रेसअध्यक्षनेकहा,‘‘हम‘न्याय’कोजीएसटीकीतरहलागूनहींकरेंगे।हमसबसेपहलेपायलटपरियोजनाकेतौरपरइसेलागूकरेंगेताकिक्रियान्वयनकीप्रक्रियामेंअगरकोईखामीहैतोउसेदूरकियाजासके।फिरहमइसेराष्ट्रीयस्तरपरलागूकरेंगे।हमलाभार्थियोंकीपहचानकरनेकेलिएठोसतरीकाअपनाएंगेताकिकोईपात्रपरिवारछूटनजाए।’’यहपूछेजानेपरकिक्यापायलटपरियोजनाकांग्रेसशासितराज्योंमेंशुरूहोगी,गांधीनेकहाकिइसबारेमेंफैसलाविशेषज्ञकरेंगे।उन्होंनेकहा,‘‘संप्रगसरकारने10वर्षोंमें14करोड़लोगोंकोगरीबीसेबाहरनिकाला।हमारालक्ष्यअबगरीबीकोपूरीतरहखत्मकरनाहै।’’गांधीनेकहाकिआजभी20से22प्रतिशतपरिवारगरीबीमेंजीवनजीरहेहैं।इनमेंसेकईलोगऐसेहैंजोप्रधानमंत्रीकीनोटबंदीऔरगब्बरसिंहटैक्स(जीएसटी)कीवजहसेगरीबीकेदलदलमेंगिरे।उन्होंनेकहा,‘‘हमारामकसदभारतसेगरीबीकोपूरीतरहखत्मकरनाहै।’’कांग्रेसअध्यक्षनेकहाकिन्यायसेकोईवित्तीयमुद्दानहींपैदाहोनेवालाहै।गांधीनेकहाकिसबसेगरीबलोगोंकेहाथमेंपैसाजानेकेबाददेशकीविकासदरबढ़ेगी।कांग्रेसपरदशकोंसे‘गरीबीहटाओ’कानारेलगानेकेभाजपाकेआरोपपरकांग्रेसअध्यक्षनेकहाकिभारतकी70फीसदीआबादीगरीबथीऔरकांग्रेससरकारोंनेइसपरिदृश्यकोबदलनेकेलिएकड़ीमेहनतकी।उन्होंनेकहा,‘‘गरीबीउन्मूलनहीएकबड़ीपरियोजनाहैऔरइसकेलिएदशकोंतकसततकार्यहुआ।आजादीकेबादसेकांग्रेसगरीबीउन्मूलनकेकदमउठानेमेंअग्रणीरहीहै।’’गांधीनेकहाकिहरितक्रांति,श्वेतक्रांति,उदारीकरणऔरमनरेगाएवंखाद्यसुरक्षाकाअधिकारजैसेकदमोंकीवजहसेकरोड़ोंभारतीयगरीबीकेदायरेसेबाहरनिकलेऔरअबगरीबीपर‘आखिरीप्रहार’करके20-25करोड़गरीबोंकोइसदलदलसेबाहरनिकालनाहै।उन्होंनेकहा,‘‘अगरमोदीजीनेअपनाकामसहीतरीकेसेकियाहोतातोगरीबीकोखत्मकरनेकीप्रक्रियाअबतकपूरीहोचुकीहोती।यहदुर्भाग्यपूर्णहैकिउनकीनीतियोंनेअर्थव्यवस्थाकोनुकसानपहुंचानेकेसाथसाथहालातऔरबिगाड़दिये।’’यहपूछेजानेपरकिक्याकांग्रेसकेसाझेदारइसयोजनाकोलागूकरनेपरसहमतहोंगे,गांधीनेकहाकिउन्होंने‘न्याय’केबारेमेंकिसीसहयोगीदलसेकोईनकारात्मकटिप्पणीनहींसुनीहै।‘‘हमेंअधिकतरविपक्षकीतरफसेभीसमर्थनमिलाहै।’’उन्होंनेकहाकिप्रधानमंत्रीमोदीनेमनरेगाकोसंसदमें‘संप्रगसरकारकीविफलताकाजीताजागतास्मारक’बतायाथा,जबकिइसयोजनानेग्रामीणअर्थव्यवस्थाकोताकतदीहै।गांधीनेकहा,‘‘न्यायसेदेशमेंउपभोगऔरउत्पादनकामजबूतदौरशुरूहोगाजोअर्थव्यवस्थाकेविकासमेंतेजीलाएगा।’’