राष्ट्रपति के अभिभाषण को कांग्रेस ने बताया प्रेरणा विहीन, नीरस, खोखला और आडंबर से भरा

नईदिल्ली,प्रेट्र।कांग्रेसनेसंसदकीसंयुक्तबैठकमेंराष्ट्रपतिकेअभिभाषणकोप्रेरणाविहीन,नीरस,खोखलाऔरआडंबरभराकरारदियाहै।पार्टीनेउनकेभाषणमेंएकसाथचुनावकोशामिलकिएजानेपरचिंताभीजताईहै।

पार्टीकेवरिष्ठप्रवक्ताआनंदशर्मानेकहाकिएकसाथचुनावकरानेकेविचारपरऔरचर्चाकरनेकीजरूरतहै।इसेथोपानहींजासकताक्योंकियहविविधता,राज्यकेअधिकारऔरसरकारचुननेवालीजनताकेअधिकारोंकाहननहोगा।

कांग्रेसप्रवक्तानेकहाकिप्रधानमंत्रीनरेंद्रमोदीमहत्वपूर्णमामलोंपरसामंजस्यतैयारकरनेकेलिएसहयोगमांगएकनयाअध्यायखोलनाचाहतेहैं।इसकेलिएभाजपाऔरउसकीसरकारमेंइच्छाकीनिष्पक्षताकीझलकमिलनीचाहिएजोकहींहैहीनहीं।उन्होंनेआरोपलगायाकिपहलेदिनसेभाजपाफूट,अस्थिरताऔरकांग्रेससरकारोंकोनिशानाबनानेकोप्रोत्साहनदेरहीहै।इसपरतत्कालअंकुशलगनाचाहिए।

शर्मानेकहा,'राष्ट्रपतिकाअभिभाषणप्रेरणाविहीन,नीरस,खोखलाऔरआडंबरयुक्तहै।यहप्रधानमंत्रीकेबयानोंऔरआमचुनावकेबादकैबिनेटद्वारालिएगएकार्यकारीफैसलोंकीप्रतिध्वनिहै।'उन्होंनेकहाकिराष्ट्रपतिकेसंबोधनमें2014मेंजबसरकारनेसत्तासंभालीथीतबलोगोंसेकिएगएवादेकाकहींकोईउल्लेखनहींहै।बेरोजगारीपिछले45वर्षोमेंउच्चतमपरहै,लेकिनरोजगारऔरबेरोजगारीकाकहींउल्लेखनहींहै।

लोकसभाचुनावऔरक्रिकेटसेसंबंधितअपडेटपानेकेलिएडाउनलोडकरेंजागरणएप