ऋषिकेश: जाखन पुल की बर्बादी उगल रही कई राज, पुल टूटने का मुख्य कारण बना अवैध खनन

हरीशतिवारी,ऋषिकेश।गढ़वालमंडलसहितऋषिकेशकोराजधानीदेहरादूनसेजोड़नेवालारानीपोखरीकेजाखननदीपरबनापुलटूटचुकाहै।पुलकेटूटनेकेपीछेसबसेबड़ाकारणअवैधखननकोबतायाजारहाहै।वहींलोनिविअधिकारीखननकोएककारणमानतेहुएपुलकीइसबर्बादीकेऔरभीकईकारणगिनारहेहैं।हकीकतपुलकेसमीपवर्तीक्षेत्रकेलोगबाखूबीजानतेहैं,क्योंकिउन्होंनेरातकेअंधेरेमेंकईबारजेसीबीऔरपोकलैंडमशीनोंसेनदीकासीनाछलनीहोतेदेखाहै।घूमफिरकरबातपुलकेलिएगठितजांचसमितिपरठहरजातीहै,जिसकीजांचअबतकशुरूनहींहोपाई।

जाखननदीमेंशासनकीओरसेदोवर्षपूर्वखननकेपट्टेजारीकिएगएथे।खननकोलेकरउसवक्तभीसवालउठतेरहेहैं।मसलनरातकेअंधेरेमेंहोनेवालाखननऔरएकहीरवन्नेपरकईवाहनोंकीनिकासीजैसेसवालअबतकअनुत्तरितहैं।जाखननदीमेंजबखननचरमपरथातोरानीपोखरीऔरआसपासक्षेत्रमेंकईव्यक्तियोंनेअपनेनिजीभूखंडोंपरअवैधखनिजभंडारणकररखाथा।वहींजिनकेपासखनिजभंडारणकीअनुमतिदीथीवेक्षमतासेज्यादाखनिजकाभंडारणकरतेथे।राजनीतिकसंरक्षणप्राप्तयहलोगपरविभागकभीकार्रवाईकरनेकीहिम्मतनहींजुटापाया।

इतनाहीनहींजाखननदीमेंमई2019कोखननपररोकलगगईथी।इसकेबादभीखननमाफियानदीकासीनाचीरतेरहे।तत्कालसमयमेंअपरआयुक्तगढ़वालमंडलहरकसिंहरावतजबयहांसेगुजररहेथेतोउन्होंनेरातमेंमशीनोंकेजरियेखननहोतादेखा।जिसकेबादउन्होंनेउपजिलाधिकारीऋषिकेशकोकार्रवाईकेनिर्देशभीदिएथे।उसकार्रवाईमेंजेसीबीपकड़ीगईथी।अवैधखननकोलेकरस्थानीयजनप्रतिनिधियोंपरकईबारसवालउठे।

सितंबर2020मेंपुलकेनीचेबुनियादऔरपिलरकीसुरक्षाकेलिएलोकनिर्माणविभागने40लाखरुपयेसेअनुरक्षणकार्यकरायाथा।इसदौरानपुलसे50मीटरकीदूरीपरहीखननकरखनिजकोइसनिर्माणकार्यमेंप्रयोगमेंलायाजारहाथा।जिसपरथानोंरेंजकेवनक्षेत्राधिकारीएनएलडोभालनेविभागीयदोठेकेदारोंपर30और20हजाररुपयेजुर्मानाभीलगायाथा,लेकिनलोनिविनेऐसेठेकेदारोंकोब्लैकलिस्टेडनहींकिया।

कार्रवाईकीखानापूर्तिकरसोगएविभाग

रानीपोखरीमेंजहांयहपुलबनाहैवहसमूचाक्षेत्रतीनविभागलोकनिर्माणविभाग,वनविभागऔरङ्क्षसचाईविभागकेअंतर्गतआताहै।इसकाऊपरीहिस्साग्रामसभासेजुड़ाहै।नदीमेंअवैधखननकोइनसभीविभागोंकीजिम्मेदारीथी।विशेषरूपसेवनविभागकियहांपरज्यादाजिम्मेदारीबनतीहै।वननिगमकेक्षेत्रीयप्रबंधकआइएसनेगीनेबतायाकिमई2019तकयहांखननकीअनुमतिथी,उसकेबादसेवननिगमकीयहांभूमिकासमाप्तहोजातीहै।रेंजअधिकारीथानोंएनएलडोभालनेबतायाकिसितंबर2020मेंपुलकेनीचेखननपरविभागदोठेकेदारोंकेखिलाफकार्रवाईकरचुकाहै।गिनी-चुनीकार्रवाईकेबादविभागोंनेअपनीजिम्मेदारीसेक्योंइतिश्रीकरदीयहबड़ासवालहै।

यहभीपढ़ें- उत्तराखंडकेसभीपुलोंकीमौजूदाहालतपरशासननेकीरिपोर्टतलब,देनीहोगीएकहफ्तेमें