साल भर सूखे रहे तालाब, लबालब रहीं फाइलें

एटा,जासं।भूगर्भजलस्तरनियंत्रितकरनेऔरजलसंरक्षणकेलिएपिछलेवर्षखुदवाएगएतालाबसिस्टमकोआइनादिखारहेहैं।आठतालाबोंकीखोदाईतोकरादीगईमगरइनमेंपानीभरनेकाइंतजामहीनहींहोपाया।इधर,फाइलोंमेंसरकारीआदेशकेअनुपालनकीरिपोर्टदेकरअफसरअपनीपीठथपथपातेरहे।सैकड़ोंतालाबतोऐसेहैंजिनमेंएकबारपानीभरनेकेबाददोबारादेखनेकीजरूरतहीनहींसमझीगई।

पिछलेवर्षशासननेमनरेगाकोतालाबखोदवानेकीजिम्मेदारीसौंपीथी।इसकेतहतजिलेमें255तालाबोंकीखोदाईकराईगई।ज्यादातरतालाबग्रामपंचायतमुख्यालयपरहीखोदेगएथे।खोदेगएतालाबमेंपानीभरनेकेलिएमनरेगाकोइंतजामकरनाथा।इसकेलिएनलकूपलगाएजानेथेयानजदीकीरजवहासेतालाबतकपाइपलाइनबिछनीथी।जिलेमेंआठतालाबऐसेहैंकिजहांएकसालसेएकबूंदपानीभीनहींहै।तालाबतबसेहीसूखेपड़ेहुएहैं।

तीनमहीनेबादहोनीथीमॉनीटरिग

मनरेगाकेतहतखुदवाएगएतालाबोमेंपानीकीस्थितिसुनिश्चितकरनेकेलिएहरतीनमाहबादमॉनीटरिगकाप्रावधानहै।मगरजिलेमेंअधिकारियोंकोइसकीफुरसतहीनहींमिली।अलीगंज,सकीट,जैथराआदिविकासखंडक्षेत्रोंकेतालाबोंमेंभीपानीबहुतकमहै।नियमानुसारतालाबकमसेकमआधेतोभरेहोनेहीचाहिए।इससमयजिलेमें50फीसदसेभीअधिकतालाबोंमेंकमपानीहै।

इसलिएनहींमिलीफुरसत

तालाबोंमेंपानीनहोनेकाकारणअधिकारियोंकीव्यस्तताहै।अधिकारीकहतेहैंकिलोकसभाचुनावीतैयारियोंकेकारणव्यस्ततारही।तालाबखोदाईकेपीछेकामकसदयहीथाकिजलस्तरबढ़ायाजाएऔरगांवकेपशुओंकोभीतालाबोंमेंपानीआसानीसेमिलसके।पिछलेवर्षमनरेगानेजितनेभीतालाबोंकीखोदाईकराईगईथीउनमेंअधिकांशमेंपानीहै।अगरकहींकमीभीहैतोवहभीसमयरहतेपूरीकरदीजाएगी।चुनावीव्यस्तताकेकारणतालाबोंपरकामशेषरहगयाहै।

-फूलचंद्रयादव,उपायुक्त,मनरेगा

बॉक्स:हरतालाबपरदिखाईदेगीपंचवटी

मनरेगाकोनिर्देशदिएगएहैंकितालाबोंकेकिनारेआम,पीपल,आंवला,अशोकऔरबेलकेवृक्षोंकेलिएपौधरोपणकियाजाए।इनवृक्षोंसेछांवतोमिलेगीही,पानीभीज्यादानहींसूखेगा।तालाबोंमेंसीढि़यांबनाएजानेकीभीयोजनाहैताकिपशुआसानीसेनहानेऔरपानीपीनेकेलिएउतरसकें।शासननेपंचवटीकेलिएबाकायदाप्रारूपभेजाहै।इसीकेअनुसारतालाबकीभीडिजाइनहोगी।वर्ष2019में150नएतालाबोंकानिर्माणभीकरायाजाएगा।