शैक्षणिक व्यवस्था दुरुस्त करने की दिशा में करें पहल:

मधेपुरा।स्कूलीशिक्षाव्यवस्थाकैसेदुरुस्तहो,जिम्मेदारीशिक्षकोंकीहै।इसदिशामेंप्रधानाचार्यसहितसभीसहायकशिक्षकोंकोसकारात्मकपहलकरनीचाहिए।यहनिर्देशप्रखंडशिक्षापदाधिकारीनवलकिशोर¨सहनेआदर्शमध्यविद्यालयकुमारखंडमेंआयोजितमासिकगुरुगोष्ठीकेदौरानदी।उन्होंनेकहाकिविद्यालयसामाजिकपरिवर्तनकाप्रमुखकेंद्रहै।जहांअध्यनरतबच्चोंकोदेशकाजिम्मेदारनागरिकबनायाजाताहै।इसकेलिएछात्रोंकाध्यानरखनाशिक्षकोंकीजबावदेहीबनतीहै।छात्रोंकोससमयसरकारीसहायतामिलसकेइसकेलिएशिक्षकोंकोबेहतरप्रबंधकीयतरीकाअपनानाचाहिए।उन्होंनेकहाकिविद्यालयमेंगुणवत्ताशिक्षाकेबीसमानककाउपयोगप्रतिदिनहोनाचाहिए।इसकाउपयोगकरसामाजिकपरिवर्तनकीक्रांतिलाएगी।मौकेपरउन्होंनेकहाकिसभीमध्यविद्यालयमेंबालसभाकागठनकियाजानाहै।उसकाक्रियान्वयनकरनाशिक्षककादायित्वहै।इसअवसरपरकहाकिवित्तीयवर्ष2015-16एवंवित्तीयवर्ष-2017-18केछात्रवृत्तिकाउपयोगिताएवं2017-18केपोशाकराशिकाउपयोगिताजमाकरानेकानिर्देशदिया।मौकेपरशिक्षकोंकेआह्वानकरतेहुएकहाकिअर्धवार्षिकपरीक्षाकेपरिणामकोध्यानमेंरखतेहुएवार्षिकपरीक्षामेंबेहतरसफलताकेलिएबच्चोंकेसाथबेहतरअध्यापनकरनेकोकहा।इसअवसरपरप्राथमिकशिक्षकसंघकेप्रखंडअध्यक्षदिलीपकुमारयादव,सचिवसंजीवकुमारसुमन,प्रारंभिकशिक्षकसंघकेजिलासचिवभुवनकुमार,प्रखंडअध्यक्षसंजीवकुमार,प्रखंडसंसाधनकेंद्रसमन्वयकललनकुमारयादव,संकुलसमन्वयकअश्विनीकुमार,मजहरआलम,प्रधानाचार्यकुमारीमालती,उमेशचंद्रशत्यार्थी,मु.सिराजुद्दीन,उमेशशर्मा,संजयकुमार¨सह,संजययादव,भगवानयादव,दयानंदयादव,मु.नईम,रमनकुमारठाकुर,आदिमौजूदथे।