शिक्षा सत्र बीता, अभी तक नहीं मिला ड्रेस व किताबों का पैसा

हरदोई:अनिवार्यशिक्षाअधिनियमकेतहतमनमाफिकस्कूलमेंगरीबपरिवारकेबच्चोंकीशिक्षाग्रहणकरनेकीयोजनाविभागीयलापरवाहीकीभेंटचढ़गईहै।शिक्षासत्रबीतजानेकेबादभीअभीतकगरीबपरिवारकेबच्चोंकोनतोपाठ्यपुस्तकेंखरीदनेकेलिएधनराशिमिलीहैऔरनहीविद्यालयोंमेंशुल्कप्रतिपूर्तिकीधनराशिहीपहुंचीहै।इससेअभिभावकवविद्यालयप्रबंधकविभागकेचक्करकाटरहेहै।

अनिवार्यशिक्षाअधिनियमकेतहतविगतशिक्षासत्रमेंविभागकीओरसे772बच्चोंकेपब्लिकस्कूलमेंप्रवेशदिलानेकीकवायदशुरूकीगईथी।विभागकीओरसेइनबच्चोंकाप्रवेशनिजीविद्यालयोंमेंकरानेकादावाकियागयाथा।इनबच्चोंकोविद्यालयकापाठ्यक्रमऔरस्टेशनरीआदिखरीदनेकेलिएपांचहजाररुपयेप्रतिविद्यार्थीदियाजाताहै।साथहीजिसविद्यालयमेंविद्यार्थीकाप्रवेशहोताहै।उसविद्यालयकोशुल्कप्रतिपूर्तिकेलिए54हजाररुपयेदिएजातेहैं।जिलेमेंचयनितविद्यार्थियोंकेलिएशासनसेशुल्कप्रतिपूर्तिकेलिए41लाख79हजार600रुपयेऔरविद्यार्थियोंकोयूनीफार्मवकिताबोंके38लाख70हजाररुपयेकीडिमांडभेजीगईथी।विभागकोशुल्कप्रतिपूर्तिकेलिएआठलाख65हजार6सौरुपयेआवंटितहुएथे।जोसभीबच्चोंकेलिएकमथे।इसकेलिएविभागकीओरसेशेषधनराशिकोजारीकरनेकीमांगकीगईथी।विभागकीओरसे72विद्यालयोंकेखातोंमेंशुल्कप्रतिपूर्तिकीधनराशिऔर662बच्चोंकेखातोंमेंधनराशिस्थानांतरितकरनेकीसूचीतैयारकीगईथी।विभागकोशासनकीओरसे29मार्चकोबजटभीजारीहोगया।मगरधनराशिकास्थानांतरणनहींकियाजासका।इससेविद्यालयसंचालकऔरअभिभावकविभागकेचक्करकाटरहेहै।वहींवर्तमानसत्रकेलिएगरीबबच्चोंकेप्रवेशप्रक्रियाशुरूहोगईहै।जिलासमन्वयकसंजयकुमारनेबतायाकिसूचीसहायकवित्तएवंलेखाधिकारीकोउपलब्धकरादीगईथी।