शिक्षक व कर्मियों की कमी का दंश झेल रहे छात्र-छात्राएं

संवादसहयोगी,मधुपुर:अखिलभारतीयविद्यार्थीपरिषदमधुपुरकॉलेजअध्यक्षसुदामायादवकेनेतृत्वमेंकुलपतिकेनाममधुपुरकॉलेजप्राचार्यडॉ.रत्नाकरभारतीकोज्ञापनसौंपागया।ज्ञापनकेमाध्यमसेकॉलेजमेंशिक्षकवशिक्षकेतरकर्मचारियोंकीकमीकीवजहसेहोरहीपरेशानीसेअवगतकरायागयाहै।अभाविपकेछात्रनेताओंकाकहनाहैकिकॉलेजमेंपढ़ाईकेलिएछात्र-छात्राओंकोबुलायाजाताहैलेकिनसभीविषयकेशिक्षकनहींहोनेकेकारणपढ़ाईनहींहोपातीहै।विवशकोलेकरछात्रकोचिगमेंक्लासकरनेकेलिएजानापड़ताहै।इससेछात्रोंपरपढ़ाईकेलिएअतिरिक्तआर्थिकबोझपड़ताहै।सबसेखराबस्थितितोआर्थिकरुपसेकमजोरविद्यार्थियोंकीहोतीहै।पैसेकीकमीकीवजहसेकोचिगनहींकरपातेहैऔरइनछात्रोंकाभविष्यसंवरनेकेपहलेहीखराबहोचुकेहोतेहै।वहींकर्मचारियोंकेअभावमेंछात्रोंकोफॉर्मभरनेकेलिएएकतरफदिनभरलाइनमेंखड़ाहोनापड़ताहैऔरदूसरीओरइसकेलिएसीमितसमयदियाजाताहै।दिनभरखड़ारहनेकेबादभीकईछात्र-छात्राएंफॉर्मजमाकरनेसेवंचितहोजातेहै।ऐसेछात्रोंकोबादमेंविलंबशुल्ककेसाथफॅार्मजमाकरनापड़ताहै।मौकेपरसुमितयादव,अंकितसिंहराठौर,नीरजठाकुर,सूरजकुमार,रितेशकुमार,नैतिकतिवारी,हिमांशुशेखर,सत्यमकुमारसिंह,राहुलकुमारसिंह,विष्णुगुप्ता,पीयूषयादव,गौरवकुमार,मोनीकुमारी,संजनाकुमारी,सुगंधिकुमारी,विष्णुशंकर,सोनूशर्मा,आलोकयादव,आशीषपांडे,रमेशमंडलसहितअन्यमौजूदथे।