श्रमिकों को 3 साल से नहीं मिला मेहताना, 15 लाख दिलाने को सीएम से लगाई गुहार

संवादसहयोगी,बाढड़ा:

बाढड़ाक्षेत्रमेंवनपरियोजनाओंमेंपौधरोपण,¨सचाईइत्यादिकार्योंमेंमजदूरीकरनेवालेग्रामीणमजदूरोंकोपिछलेतीनवर्षोसेमेहनतानानहींमिलाहै।विभागइनश्रमिकोंकीलगभग15लाखकीदिहाड़ीकाभुगताननहींकियाहै।जिससेमजदूरतबकेकीपरेशानियांबढ़रहीहैं।मजदूरोंनेसीएम¨वडोकेमाध्यमसेमुख्यमंत्रीमनोहरलालसेमांगकीहैकिउनकामेहनतानाजल्ददिलायाजाए।वनविभागनेवानिकीपरियोजनाकेतहतबाढड़ाक्षेत्रकेसड़क,नहरवअन्यसार्वजनिकस्थानोंपरपौधरोपणकरउनमें¨सचाईकाकार्यकियाथा।वनविभागकेअधिकारियोंनेइसकेलिएअलग-अलगगांवोंकेमजदूरोंवट्रैक्टरचालकोंकोकामपरलगाया।विभागनेमजदूरोंकोवार्षिकबजटमेंउनकीमजदूरीस्वीकृतकरदिलवानेकाभरोसादिया।लेकिनतीनवर्षगुजरनेकेबादभीकुछनहींमिलाहै।

भुगताननहींहोनेसेरोष

गांवमांढीनिवासीराजकुमार,मंजीत,बिमलादेवी,कृष्णकुमार,राजेन्द्र¨सहनेबतायाकिउन्होंनेवर्ष2015-2016केसमयगर्मी-सर्दीवबरसातकेसीजनमेंसड़कोंकेकिनारेपौधरोपणकियाऔरबादमेंउनकीदेखभालभीकी।लेकिनलंबासमयगुजरनेकेबादभीउनकोंएकभीरुपयानहींमिलपाया।इसबारेमेंउन्होंनेमौजूदाअधिकारियोंसेसंपर्ककियातोउनकोबैरंगलौटादियागया।बार-बारअपीलकरनेकेबावजूदसारामामलाविभागकेवरिष्ठअधिकारियोंकेभरोसेछोड़दिया।बाढड़ानिवासीकृष्णकुमारनेकहाकिवनविभागकेअधिकारीइसमामलेमेंगंभीरनहींहैं।उनकेतीनट्रैक्टरोंसेदोसीजनमेंपौधोंकोअलग-अलगसाइडोंपरभिजवानेवगर्मीकेमौसममेंउनमें¨सचाईकाकार्यकियागया।जिसमेंउनकालाखोंकीलागतआइलेकिनअभीतकएकरुपयाभीजारीनहींकियागयाहै।बतायाजारहाहैकिस्थानीयवनरेंजअधिकारीकार्यालयनेउसीसमयइनकाबजटराज्यमुख्यालयकोभेजदियाथालेकिनविभागकेआलाअधिकारीजानबूझकरउनकीदिहाड़ीनहींदेरहे।कईमजदूरोंनेबतायाकिछहमाहतककीदिहाड़ीकाएकभीपैसानहींमिलनेसेउनकेपरिवारकेसामनेहालातविकटहोतेजारहेहैं।