संवारे तो गए पर सहेजना भूले तालाब

संवादसहयोगीअतर्रा:एकदशकपहलेगांव-गांवमेंमॉडलतालाबबनानेकेपीछेसरकारकीमंशायहीथीकिइनकोआदर्शतालाबकेरूपमेंविकसितकरजलसंरक्षणकाएकसशक्तमाध्यमबनायाजाएगा।तालाबोंकेकायाकल्पमेंलाखोंरुपयेखर्चभीहुएलेकिनइन्हेंग्रामपंचायतेंसहेजनहींपायीं।यहीकारणहैकियहआदर्शतालाबअबवीरानगीकादंशझेलरहेहैं।पानीकीजगहखरपतवारवसिल्टसेइनकीतस्वीरभीबदरंगहोगईहै।

शासननेएकदशकपूर्वग्रामपंचायतोंमेंबनेतालाबोकोमॉडलतालाबबनानेकीमंशाबनाईथी।जिसकेतहतज्यादातरगांवोमेंएकएकऐसामॉडलतालाबतैयारकियागया।जिसमेतालाबोकीखुदाईसेलेकरपक्काघाट,तारफेंसिग,गेटनिर्माणकराकरउनकोपुनर्जीवितकियागयाथा।तालाबकेचारोतरफहरियालीकेलिएपौधेरोपनेकेबादउनमेंपानीभरवायागयाथा।जिसकाउद्देश्यमॉडलतालाबोंकेमाध्यमसेजलसंरक्षणकीतरफथा।गांवोंमेंतालाबोंकोचिन्हितकरसंवारातोकिया,लेकिनप्रशासनवग्रामीणोंकीउदासीनताकेचलतेइनतालाबोंकोसहेजानहीजासकाहै।आजज्यादातरमॉडलतालाबोकीहालतयहहैकिहरियालीतोदिखतीहीनहींहै।गेटवसीढि़यांभीक्षतिग्रस्तहोनेलगेहै।तालाबोमेंपानीकीजगहधूलउड़रहीहै।जिसकीबानगीफतेहगंजक्षेत्रमेंदेखनेकोमिलसकतीहै।क्षेत्रमेंसत्र2009-10मेंग्रामपियार,महुई,बघेलाबरीवजबरापुरकेमॉडलतालाबोंमेंपानीकीजगहधूलउड़रहीहै।ग्रामीणोंनेबतायाकिशुरुआतीएकदोवर्षोंतकतोइनतालाबोंकीदेखरेखहुई।पानीभरवायागया,लेकिनअबहालतयहहैकिअप्रैलमाहसेहीइनतालाबोमेंपानीकेअभावमेंयहसूखेनजरआनेलगतेहै।ज्यादातरतालाबबरसातकेपानीपरहीनिर्भरहै।

-पंचायतनिर्वाचनकेबादगांवोंमेंग्रामीणोंकोजागरूककरतेहुएतालाबोंकोसंरक्षितकियाजाएगा।-सौरभशुक्ला,एसडीएमअतर्रा

आंकड़ोंकेआईनेमेंतालाब

कुलमॉडलतालाब-46