सरकारी भूमि पर रोपित पौधों का पुरसा हाल नहीं

बिजनौर,जेएनएन।वनविभागऔरअन्यसरकारीविभागोंनेजुलाईकेपहलेसप्ताहमेंजंगल,ग्रामसमाजकीखालीजमीनोंऔरसड़कोंकेकिनारे52लाखपौधरोपितकीगईथीं।इनपौधोंकीदेखरेखकाजिम्मासंबंधितविभागोंऔरग्रामपंचायतोंकोसौंपागयाहै।वहींदेखरेखकेअभावमेंदसफीसदीसेअधिकपौधनष्टहोगईहैं।

जनपदमेंछहजुलाईकोवृहदपौधारोपणअभियानकेदौरानविदुरकुटी,बैराजगंगाघाटसमेतविभिन्नस्थानोंपर52लाखपौधरोपितकीगईथीं।सामाजिकवानिकीऔररिजर्वफारेस्टमेंरोपितकीगईपौधकीदेखभालवनविभागकेकर्मचारीकरतेहैं।विदुरकुटीऔरबैराजगंगाघाटपररोपितकीगईपौधकेसंरक्षणकोअस्थाईरूपसेव्यवस्थाकीगईहै।नजीबाबादब्लाककी131ग्रामपंचायतोंकेस्कूलों,पंचायतघरों,सड़ककिनारेएवंग्रामसमाजकीखालीभूमिपर28हजारपौधेरोपितकीगईथीं।स्कूल,पंचायतघरआदिस्थानोंपरलगेपौधेसुरक्षितहैं,कितुसड़ककिनारेवग्रामसमाजकीखालीभूमिपररोपितकिएगएपौधोंमेंसेदसफीसदीपौधदेखभालकेअभावमेंनष्टहोगए,इनमेंसेकुछपौधपशुओंकाचाराबनगए,तोकुछपौधेपानीकेअभावमेंसूखगए।धामपुरब्लाककी97ग्रामपंचायतोंमेंब्लाकवराजस्वविभागद्वाराअलग-अलगस्थानोंपरहजारोंपौधरोपितकीगईथी।देहातमेंइनपौधोंकीदेखभालकीजिम्मेदारीग्रामपंचायतस्तरपरसौंपीजातीहै।सार्वजनिकस्थानोंपररोपितकिएगएपौधेकुछसमयबादहीदेखभालकेअभावमेंदमतोड़देतेहैं।इसीप्रकारअन्यब्लाकनहटौर,स्योहाराऔरअफजलगढ़मेंपौधेरोपेगएहैं।कईस्थानोंपरवनविभागकेसहयोगसेदोनोंविभागयहकार्यकरतेहैं।इनस्थानोंपरवनविभागभीपौधोंकीदेखभालकरताहै।जुलाईमाहमेंरोपितकीगईपौधकासत्यापनमार्चमाहमेंवनविभागकीउच्चस्तरीयकमेटीगठितकरेगी।पिछलेसालहुईसत्यापनमेंपांचफीसदीपौधनष्टहोनेकातथ्यउजागरहुआथा।

-डा.एम.सेम्मारन,डीएफओ