तालाब में पानी, बेजुबानों को मिला सहारा

सीतापुर:जलहैतोजीवनहै।पानीकीतलाशमेंभटकतेबेजुबानोंकीप्यासबुझानेवग्रामीणोंकीसहूलियतकेलिएकस्बाऔरंगाबादकेसमाजसेवीनेगांवकेतालाबमेंपानीभरवानेकाजिम्मासंभाला।गांवकेधोबियातालाबकोनिजीट्यूबवेलसेअपनेखर्चेसेभरवाया।तालाबकोभरनेमेंदोदिनसेअधिकसमयलगा।तालाबमेंपानीहोनेसेगांवमेंघूमरहेबेसहारापशुओंकोसहारामिला।पशुपालकअपनेपशुओंकोनहलानेकेलिएतालाबपरआतेहैं।कस्बेकेलोगोंकेकपड़ेधोनेवालेधोबीकोभीतालाबकेपानीसेफायदाहुआ।सुबहग्रामीणोंकेकपड़ेतालाबपरधोताहै।किनारेमेंखड़ेपेड़ोंमेंरस्सीबांधकरकपड़ोंकोसुखाभीलेताहै।समाजसेवीशरीफअहमदकाकहनाहैकिगांवकेबाहरस्थितयेतालाबलोगोंकेलिएबहुतहीउपयोगीहै।पशुपालकोंकेअलावाबेसहारापशुतालाबकेपासपानीपीनेआतेथे।जिसेदेखकरतालाबमेंपानीभरवानेकाविचारआया।छहमहीनेसेलगातारतालाबमेंपानीभरवारहेहैं।तालाबमेंपानीकमहोतेहीदोबाराभरवादियाजाताहै।हरदूसरेमहीनेनिजीट्यूबवेलसेपानीभरवायाजाताहै।वहधोबियातालाबमेंपूरेवर्षपानीभरनेकीजिम्मेदारीसंभालेंगे।इसतालाबमेंपानीकासंरक्षणवर्षभरकरेंगे।