तीन साल बाद भी हिमानी चामुंडा मंदिर तक नहीं पहुंचा पानी

संवादसहयोगी,योल:तीनवर्षसेभीअधिकसमयबीतजानेकेबादभीआदिहिमानीचामुंडामंदिरमेंपानीनहींपहुंचपायाहैं।इसप्रस्तावितयोजनाकेलिएअनुमानित32लाखरुपयेकेबजटकोचामुंडामंदिरन्यासनेमंजूरीदीथीऔरजलशक्तिविभागकोइसकार्यकाजिम्मासौंपागयाथा।इसकार्यकेलिएजलशक्तिविभागनेबाकायदावर्ष2017केदौरानदोबारटेंडरभीलगाए,लेकिनरदहोगए।

आखिरमें2018कोवर्कअवार्डहुआ,लेकिनमौसमअनुकूलनरहनेसेकार्यलटकारहा।बहरहाललोगोंकीमांगकोदेखतेहुएसितंबर2020केदौरानजलशक्तिविभागनेमंदिरपरिसरमेंपानीपहुंचाकरसफलट्रायलतोकिया,लेकिनचारदिनबादसप्लाईठपहोकररहगई।

विभागनेजलस्त्रोतसूखनेकीबातकहकरअपनापल्लाझाड़लिया।अबस्थितियहहैकिपाइपलाइनतोबिछीहै,लेकिनपानीनहीहै।वर्ष2014-15केदौरानभीएकसंस्थानेअथकप्रयासकरहिमानीचामुंडामंदिरपरिसरमेंपानीपहुंचादियाथा,परंतुउचितदेखभालनहोनेसेपेजयलयोजनाठपहोकररहगईथी।अबजलशक्तिविभागकेअधीनयहप्रस्तावितयोजनाकबतकसफलहोगीयहसमयहीबतापाएगा।

उधर,जलशक्तिमंडलधर्मशालाकेअधिशाषीअभियंतासरवनठाकुरनेबतायाकिजिसजलस्त्रोतसेपानीकादोहनकियागयाथा,उसकेसूखजानेसेसप्लाईबहालनहींहोपाईथी।अबएकअन्यजलस्त्रोतसेपानीकादोहनकियाजारहाहै,जिसमेंसालभरपानीरहताहै।