उप्र सहकारी चीनी मिल्स संघ के पूर्व एमडी के खिलाफ सीबीआई ने जांच शुरू की

नयीदिल्ली,23मई(भाषा)सीबीआईनेउप्रसहकारीचीनीमिल्ससंघकेपूर्वप्रबंधनिदेशकबीकेयादवकेखिलाफभ्रष्टाचारमामलेमेंप्राथमिकजांच(पीई)दर्जकीहै।यादवपरप्रदेशमेंसमाजवादीपार्टीकेशासनकालमेंवर्ष2013-17केदौरानकर्मचारियोंकेतबादले,नियुक्तिऔरपदोन्नतिकेलिएघूसलेनेकाआरोपहै।अधिकारियोंनेयहजानकारीदी।उन्होंनेबतायाकिउत्तरप्रदेशसरकारने10नवंबर2017कोयादवकेखिलाफलगेआरोपोंकीसीबीआईजांचकीसिफारिशकीथी,जिसेइससालएकअप्रैलकोकेंद्रद्वाराजांचएजेंसीकोभेजागया।उत्तरप्रदेशमेंअगलेसालविधानसभाचुनावप्रस्तावितहैं,जहांसत्तारूढ़भाजपाकामुकाबलासमाजवादीपार्टी,बहुजनसमाजपार्टीऔरकांग्रेससमेतअन्यदलोंसेहोगा।सीबीआईनेइसमामलेमेंपीईदर्जकीहैजोकिइसबातकीपड़तालकरनेकापहलाकदमहैकिप्राथमिकीदर्जकिएजानेकेलिएप्रथमदृष्टयापर्याप्तसाक्ष्यहैं।राज्यसरकारनेलखनऊकेआयुक्तकीनिगरानीमेंजांचगठितकीथीजिसनेयादवपरचीनीमिल्ससंघकेकर्मचारियोंकीनियुक्ति,तबादलेऔरपदोन्नतिमेंअवैधधनअर्जितकरनेकाआरोपलगायाथा।इसकेअलावा,सेवानिवृत्तिकेबादमिलनेवालेलाभसमेतअन्यभ्रष्टाचारकेआरोपोंकीजांचसीबीआईकरेगी।