विभाग बेखबर, वन माफिया काट रहे सागौन के पेड़

सिद्धार्थनगर:वनविभागकीढ़ीलीनकेलहोयाफिरवनमाफियासेसांठगांठ।तभीतोरखवालीकेबादभीसागौनकेजंगलमेंरातकेअंधेरेमेंपेड़ोंकोकाटकरलेतेजारहेहैं।विभागकोइसकीभनकतकनहींलगरही।मामलामिश्रौलियाथानाक्षेत्रकेचेतियापुलिसचौकीस्थितसागौनजंगलकाहै।शुक्रवाररातवनमाफियानेयहांसागौनकेचारपेड़ोंकोकाटकरगिरादियाऔरएकपेड़उठाभीलेगए।जबकिइसजंगलकीदेखरेखकेलिएवाचरवएकमालीकीयहांतैनातीहै।विभागनेइन्हेंरातदिनजंगलकीरखवालीकरनेकीहिदायतदेरखाहै।इसकेबादभीजंगलसेसागौनजैसेकीमतीपेड़ोंकीकटानचोरीछिपेकियाजानाविभागपरसंदेहगहराकरताहै।यहीनहींदोवर्षपूर्वभीइसीजंगलसेदोसागौनकेवृक्षकाटकरवनमाफियाउठालेजाचुकेहैंबावजूदविभागसतर्कनहींहुआ।सुबहग्रामीणोंकीसूचनापरवनविभागकीटीमयहांपहुंची।फारेस्टरविवेकमिश्रानेकाटकरगिराएगएपेड़ोंकीनापसाधकियाऔरअज्ञातकेखिलाफमुकदमादर्जकरनेकीबातकही।

डीएफओसिद्धार्थनगरचंद्रेश्वरसिंहनेकहाकिहमेंजानकारीहुईहै।हमअभीबाहरहैंआनेतकयदिबरामदगीकेसाथकाटनेवालोंकापताचलातोठीक,नहींतोसंबंधितबीटप्रभारी,वनरेंजअधिकारीआदिपरकार्रवाईकीजाएगी।--

31तकलेंयोजनाकालाभ

सिद्धार्थनगर:विद्युतविभागकीओरसेचलरहेएकमुश्तसमाधानयोजनाकेलिएसिर्फदोदिनकीअवधिशेषहै।31जनवरीतकरजिस्ट्रेशनकराकरविद्युतउपभोक्ताअपनाबकायाबिजलीकाबिलजमाकरदें।इसदौरानजमाकिएगएबिलपरसरचार्जसौफीसदीतकमाफरहेगा।पहलीफरवरीसेउपभोक्ताइसयोजनाकालाभनहींलेसकेंगे।उक्तजानकारीअधिशासीअभियंताराममूरतनेदीहै।

मंडीमार्गपरअतिक्रमण

सिद्धार्थनगर:शाहपुरबाजारसेधोबहावमंडीमार्गजबरदस्तअतिक्रमणकीचपेटमेंहै।पटरियोंपरठेलेतोलगतेहीहैं,बड़ेदुकानदारभीकब्जाजमाएबैठेहैं।लोगोंकोइसकेचलतेअतिक्रमणसेभीजूझनापड़ताहै।राजेश,अनूप,देवीशरण,गंगोत्री,हरिराम,सचिन,गोकुल,मुकेश,राजकुमारविश्वकर्माआदिनेअतिक्रमणकेखिलाफअभियानचलानेकीमांगकीहै।सफाईव्यवस्थाबदहाल

सिद्धार्थनगर:भनवापुरकेदेवरियाचमनगांवमेंकईमहीनोंसेसफाईनहींहुईहै।जिससेगंदगीकीभरमारहै।जगह-जगहनालियोंकागंदापानीजमाहै।रफीउल्लाहवरमजानबतातेहैकीइसगांवमेसफाईकर्मीनहींआतेक्योंकिप्रधानसेसेटिगहै।हमगांवकेलोगअपने-अपनेघरकेसामनेकीनालीखुदसाफकरतेहैं।वहीहमारेआस-पासकेगांवोमेखुदप्रधानसफाईकरवारहेहै।लोगोंकोसमस्याझेलनीपड़रहीहै।

बेसहारापशुओंसेग्रामीणोंकोपरेशानी

धोबहा:गालापुर,धोबहा,मानादेई,गौरा,सत्तावारजोतआदिगांवमेंआजकलबेसहारापशुओंकाझुंडआगयाहै।जिससेकिसानपरेशानहैं।किसानरफीक,सतिरामयादव,निबर,विनोदमिश्रआदिलोगोकाकहनाहैकिइससमयसरसो,आलू,गेहूंकीफसलखेतमेंहै।प्रशासनकीउदासीनतासेउन्हेंनुकसानहोरहाहै।किसानोंनेसमस्यासेनिजातदिलानेकीमांगकीहै।