वित्‍तमंत्री ने टॉप 50 डिफॉल्टरों के लोन बट्टे खाते में डाले जाने पर विपक्ष के आरोपों का दिया जवाब

नईदिल्ली:देशकेटॉप50डिफॉल्टरोंकेलोनकोतकनीकीरूपसेबट्टेखातेमेंडालेजानेकेबादहमलावरहुईकांग्रेसपार्टीपरपलटवारकरतेहुएवित्तमंत्रीनिर्मलासीतारमणनेकहाकिजानबूझकरलोननहींचुकानेवालेसंप्रगसरकारकी‘फोनबैंकिंग’केलाभकारीहैं.मोदीसरकारउनसेबकायावसूलीकेलिएउनकेपीछेपड़ीहै.उन्‍होंनेकहाकिकांग्रेसकेपूर्वअध्यक्षराहुलगांधीकोआत्मावलोकनकरनाचाहिएकिक्योंउनकीपार्टीव्यवस्थाकीसफाईमेंकोईनिर्णायकभूमिकानिभानेमेंअसफलरही.

देशके50शीर्षडिफॉल्टरों(जानबूझकरऋणनहींचुकानेवाले)केऋणकोबट्टेखातेमेंडालेजानेपरविपक्षकेआरोपोंकेजवाबमेंवित्‍तमंत्रीसीतारमणनेयहबातकही.इनडिफॉल्टरोंके68,607करोड़रुपएकेऋणकोतकनीकीरूपसेबट्टेखातेमेंडालदियागयाहै.

कांग्रेसनिर्णायकभूमिकानिभानेमेंविफल

वित्तमंत्रीनेमंगलवारदेररातएककेबादएकट्वीटकिए.विपक्षकेआरोपोंकाजवाबदेतेहुएवहकांग्रेसपरहमलावररही.उन्होंनेकहाकिकांग्रेसलोगोंकोगुमराहकररहीहै.कांग्रेसकेपूर्वअध्यक्षराहुलगांधीकोआत्मावलोकनकरनाचाहिएकिक्योंउनकीपार्टीव्यवस्थाकीसफाईमेंकोईनिर्णायकभूमिकानिभानेमेंअसफलरही.

बिनाकिसीसंदर्भकेतथ्योंकोसनसनीबनाकरपेशकररहेहैं

सीतारमणनेकहा,राहुलगांधीऔरकांग्रेसकेप्रवक्तारणदीपसुरजेवालालोगोंकोगुमराहकरनेकीकोशिशकररहेहैं.वहकांग्रेसकेमूलचरित्रकीतरहबिनाकिसीसंदर्भकेतथ्योंकोसनसनीबनाकरपेशकररहेहैं.’’

कांग्रेसऔरराहुलगांधीकोआत्मावलोकन

वित्‍तमंत्रीनेकहा,”कांग्रेसऔरराहुलगांधीकोआत्मावलोकनकरनाचाहिएकिक्योंउनकीपार्टीप्रणालीकीसाफ-सफाईमेंकोईरचनात्मकभूमिकानहींनिभासकी.नासत्तामेंऔरनाविपक्षमेंरहतेहुए.कांग्रेसनेभ्रष्टाचारकोरोकने-हटानेऔरसांठ-गांठवालीव्यवस्थाकोखत्मकरनेकेलिएकोईभीप्रतिबद्धताजताईहै?’’

यूपीएसरकारकेदौरानबैंकोंने1,45,226करोड़रुपएकेलोनबट्टेखातेमेंडालेेथे

वित्तमंत्रीनेकहाकि2009-10और2013-14केबीचवाणिज्यिकबैंकोंने1,45,226करोड़रुपएकेऋणोंकोबट्टेखातेमेंडालाथा.उन्होंनेकहा,‘‘काश!गांधी(राहुल)नेपूर्वप्रधानमंत्रीमनमोहनसिंहसेइसराशिकोबट्टेखातेमेंडालेजानेकेबारेमेंपूछाहोता.”

अधिकतरफंसेलोन2006-2008केदौरानबांटेगए

वित्‍तमंत्रीनेउनमीडियारपटोंकाभीहवालादिया,जिसमेंरिजर्वबैंककेपूर्वगवर्नररघुरामराजननेकहाथाकिअधिकतरफंसेकर्ज2006-2008केदौरानबांटेगए.”अधिकतरकर्जउनप्रवर्तकोंकोदिएगए,जिनकाजानबूझकरऋणनहींचुकानेकाइतिहासरहाहै.”

ऋणचुकानेकीक्षमतारखतेहुएभीऋणनहींचुकानेवालोंकालाभमिलताथा

सीतारमणनेकहा,”ऋणलेनेवालेऐसेलोगजोऋणचुकानेकीक्षमतारखतेहुएभीऋणनहींचुकाते,कोषकीहेरा-फेरीकरतेहैंऔरबैंककीअनुमतिकेबिनासुरक्षितपरिसंपत्तियोंकानिपटानकरदेतेहैं,उन्हेंडिफॉल्टरकहतेहैं.

ऐसेप्रवर्तकोंको‘फोनबैंकिंग’कालाभमिला

यहसभीऐसेप्रवर्तककीकंपनियांरहीं,जिन्हेंयूपीए(कांग्रेसनीतपूर्ववतीगठबंधनसरकार)की‘फोनबैंकिंग’कालाभमिला.”वित्तमंत्रीनेएकट्वीटऔरकर18नवंबर2019कोलोकसभामेंइससंबंधमेंपूछेगएएकप्रश्नकेजवाबकाउल्लेखभीकिया.यहजवाबडिफॉल्टरोंकीसूचीसेसंबंधितथा.

यूपीएसरकारकीबैंकिंग,पंसदकेलोगोंकोमिलताथालोन

‘फोनबैकिंग’भाजपाकाएकराजनीतिकहथियारहै.इससेवहयूपीएसरकारपरसत्तासीनलोगोंकेबैंकप्रबंधनोंकोफोनकरकेअपनेपसंदकेलोगोंकोऋणदेनेकीसिफारिशकरनेकाआरोपलगातीरहीहै.