वन्य जीव विभाग ने तेंदुए को पकड़ने को लगाए पिंजड़े

संवादसहयोगी,रामकोट:गतसोमवारकोगुलगैड़ामेंतेंदुएद्वारानाबालिगकोअपनाशिकारबनाएजानेकेबादवन्यजीवविभागनेतेंदुएकीधरपकड़केलिएअपनेप्रयासशुरूकरदिएहैं।

विभागद्वाराउक्तस्थानपरअपनीटीमोंकोतैनातकरतेहुएवहांतेंदुएकोपकड़नेकेलिएदोपिजरेलगातेहुएउनकीचौबीसघंटेनिगरानीशुरूकरदीहै।इससंबंधीमृतकनाबालिगकेचाचामदनलालनेबतायाकिविभागकेकर्मचारियोंनेप्रयासशुरूकरदिएहै,लेकिनक्षेत्रमेंसैकड़ोंकीसंख्यामेंघूमरहेइनतेंदुएकोरोकनेकेलिएयहइंतजामनाकाफीहै।उनकाकहनाहैकिइलाकेमेंपहलेसेहीतेंदुएकाआतंकथा,लेकिनउनकेभतीजेकीमौतकेबादक्षेत्रकीमौतकेबादअबलोगोंकाखौफऔरज्यादाबढ़गयाहै।उन्होंनेकहाकिजंगलझाड़ियोंसेघिरेक्षेत्रमेंतेंदुओंकोछिपनेकेलिएकाफीस्थानमिलताहै।ऐसेमेंमात्रएकयादोस्थानोंपरइसतरहकीकार्रवाईक्षेत्रकेलोगोंकोतेंदुएकेआतंकसेसुरक्षितनहींकरसकतीहै।लिहाजाअगरविभागक्षेत्रकेलोगोंकोतेंदुएकेआतंकसेमुक्तकरनाचाहताहैतोउसेबड़ेस्तरपरकार्रवाईकरनेकेजरूरतहै।नहींतोजिसप्रकारउनकेभाईकेघरकाचिरागबुझाहै,कोईऔरघरोंकोभीइसतरहकाहालहोसकताहै।क्योंकिइसघटनाकेबादअबयहनिश्चितहोचुकाहैकिक्षेत्रमेंघूमनेवालातेंदुआआदमखोरहोगयाहै।वहींक्षेत्रमेंआमलोगभीअपनीसुरक्षाकोलेकरअबकाफीचितिंतहोगएहैं।