व्यवस्थाओं पर आफत बनकर बरसा पानी

जागरणसंवाददाता,गोवर्धन(मथुरा):राजकीयमुड़ियापूर्णिमामेलाकीप्रशासनिकव्यवस्थाओंपरइंद्रदेवकीमेघमालाओंनेपानीफेरदिया।रातमेंकरीब3:30बजेसेहीबारिशशुरूहोगई।रुक-रुककरबरसतेबादलोंनेमेलाकीव्यवस्थाओंकोध्वस्तकरदिया।

गुरूवारसुबहसेहीआकाशमेंबदराआजारहेथे।उमसभरीगर्मीसेब्रजधराअकुलारहीथी।लाखोंभक्तअपनेइष्टदेवगिरिराजमहाराजसेसुहानामौसमकिएजानेकीस्तुतिकरतेहुएआगेबढ़रहेथे।गिरिराजजीभीअपनेभक्तोंकीभक्तिदेखपिघलउठे।दोपहरकरीबसाढ़ेतीनबजेगिरिराजजीकीधराकेऊपरकालेसफेदघनेबादलउमड़ने-घुमड़नेलगे।हवाकीगर्मीशांतहोगईऔरमनभावनहवाकेझोंकोंकेसाथमेघमालाबरसउठीं।बारिशनेअधिकारियोंकीमहीनोंकीमेहनतपरपानीफेरदिया।जिलाधिकारी,एसडीएम,खाद्यसुरक्षाविभागऔरअधिशासीअधिकारीमेलाक्षेत्रकोपॉलीथिनमुक्तकरनेकेलिएखासीकसरतकररहेथे।बूंदेगिरतेहीबारिशसेबचावकोलोगोंनेजमकरपॉलीथिनखरीदी।पॉलीथिनप्रतिबंधितक्षेत्रमेंअचानकपॉलीथिनकीबाढ़आगई।पार्किंगस्थलपानीसेलबालबभरेपड़ेहैं।वाहनोंकोबाइपासपरखड़ाकियाजारहाहै।जिससेगोवर्धनआनेवालेमार्गोंपरजामलगगयाहै।छटीकरामार्गसेकरीबसातकिमीदूरसेसातकोसपरिक्रमामेंजगह-जगहपानीभराहुआहै।परिक्रमार्थियोंकोपानीकेबीचहोकरगुजरनापड़ा।दंडवतीकरनेवालेश्रद्धालुभीपानीसेहोकरगुजरे।परिक्रमामार्गमेंपंचमुखीहनुमानकेसमीप,देवीमंदिरकेसमीप,संकर्षणकुंडकेसमीप,जतीपुराकेनजदीकमार्गतलैयाबनाहुआहै।बारिशकेकारणहेलीपरिक्रमायोजनाभीअधरमेंलटकगई।हेलीपरिक्रमाकोउत्साहितश्रद्धालुओंकोनिराशाहाथलगी।बारिशसेदुकानदारभीनिराशदिखे।दुकानदारोंनेकहाकिपानीबरसनेकेकारणबिक्रीकाफीकमहुईहै।