योगी सरकार के वसूली वाले अध्यादेश की वैद्यता मामले पर इलाहाबाद हाईकोर्ट में हुई सुनवाई, बेंच का स्टे लगाने से इंकार

प्रयागराज.नागरिकतासंशोधनकानून(सीएए)केविरोधमेंउत्तरप्रदेशकेजिलोंमेंहुईहिंसाकेमामलोंकोलेकरदाखिलयाचिकाओंपरबुधवारकोइलाहाबादहाईकोर्टमेंचीफजस्टिसगोविंदमाथुरवजस्टिससुमितगोपालकीडिवीजनबेंचमेंसुनवाई।इसदौरानयोगीसरकारयूपीलोकतथानिजीसंपत्तिक्षतिवसूलीअध्यादेश-2020कीवैद्यताकोचुनौतीदेनेवालीयाचिकापरबेंचनेस्टेदेनेसेइंकारकरदिया।साथहीवसूलीरोकनेवालीयाचिकापरभीस्टेनहींदियागया।अदालतने25मार्चतकराज्यसरकारकोइसप्रकरणमेंजवाबदाखिलकरनेकासमयदियाहै।27मार्चकोअबमामलेकीसुनवाईहोगी।

येभीपढ़े

इलाहाबादहाईकोर्टमेंअबमहत्वपूर्णअर्जियोंपरहोगीसुनवाई;आमलोगोंकाकोर्टपरिसरमेंप्रवेशवर्जित

सभीयाचिकाओंकोसूचीबद्धकरनेकानिर्देश

चीफजस्टिसकीअध्यक्षतावालीडिवीजनबेंचनेसभीयाचिकाओंकोएकसाथसूचीबद्धकरनेकाआदेशदियाहै।कोर्टअबसभीयाचिकाओंपर25मार्चकोअंतिमसुनवाईकरेगी।दरअसल,मुंबईकेवकीलअजयकुमारकेचीफजस्टिसकोलिखेपत्रपरहाईकोर्टनेजनहितयाचिकाकायमकीहै।इसकेसाथहीदर्जनभरअन्ययाचिकाएंभीइसमामलेमेंहाईकोर्टमेंदाखिलकीगईहैं।

लखनऊपोस्टरमामलेमेंसरकारकोमिलीफौरीराहत

लखनऊहिंसामेंसार्वजानिकसंपत्तिकोनुकसानपहुंचानेवालोंकेपोस्टरहटानेकेमामलेमेंयोगीसरकारकोइलाहाबादहाईकोर्टसेफौरीतौरपरराहतमिलगईहै।चीफजस्टिसगोविंदमाथुरऔरराकेशसिन्हाकीपीठनेसरकारको10अप्रैलतककीमोहलतदीहै।सरकारकोयहराहतसोमवारकोदाखिलकीगईअर्जीपरमिलीहै।इसमेंअनुपालनरिपोर्टपेशकरनेकेलिएसुप्रीमकोर्टमेंलंबितअपीलकाहवालादेकरअतिरिक्तसमयमांगागयाथा।

हाईकोर्टनेदियाथापोस्टरहटानेकाआदेश

वसूलीवालेपोस्टरलगानेकेमामलेकास्वत:संज्ञानलेतेहुएइलाहाबादहाईकोर्टनेसभीआरोपियोंकेपोस्टरहटानेकाआदेशदियाथा।साथही16मार्चतकहाईकोर्टकेरजिस्ट्रारजनरलकेसमक्षअनुपालनरिपोर्टपेशकरनेकोकहागयाथा।लेकिन,प्रदेशसरकारहाईकोर्टकेइसआदेशकेखिलाफसुप्रीमकोर्टपहुंचगई।हालांकि,शीर्षअदालतनेहाईकोर्टकेफैसलेपररोकनहींलगाईऔरमामलेकोबड़ीपीठकेलिएरेफरकरदिया।पोस्टरहटानेकीसमय-सीमाख़त्महोनेकेबादसरकारनेसुप्रीमकोर्टमेंमामलालंबितहोनेकाहवालादेकरऔरवक्तमांगाथा।हाईकोर्टमेंअब10अप्रैलकोइसमामलेकीसुनवाईहोगी।इसमोहलतकोएकबड़ीराहतकेतौरपरदेखाजारहाहै,क्योंकियूपीसरकारपरअवमाननाकीकार्रवाईकाखतरामंडरारहाथा।