यूपी: शिवपाल यादव का मिशन-2022, मेरठ से आज चुनावी अभियान का करेंगे आगाज

उत्तरप्रदेशविधानसभाचुनावमेंचाचा-भतीजेयानीशिवपालयादवऔरअखिलेशयादवकेएकहोनेकीउम्मीदेंअबखत्महोतीजारहीहैं.सपाप्रमुखअखिलेशयादवकेऑफरकोरिजेक्टकरनेकेबादअबप्रगतिशीलसमाजवादीपार्टीकेअध्यक्षशिवपालयादवसोमवारकोपश्चिमीयूपीसेअपनेचुनावअभियानकाआगाजकरनेजारहेहैं.कृषिकानूनोंकेविरोधऔरकिसानोंकेसमर्थनमेंशिवपालमेरठकेसिवालखासकेसिवालहाईस्कूलमैदानमेंरैलीकोसंबोधितकरेंगे.

शिवपालयादवकोमेरठमेंरैलीकीअनुमतिकाफीजद्दोजहदकेबादमिलीहै.कोरोनासंक्रमणऔरधारा144लागूहोनेकेचलतेजिलाप्रशासननेमहज100लोगोंकेसाथहीरैलीकरनेकीअनुमितदीहै.हालांकि,शिवपालबड़ीरैलीसेअपनेअभियानकाआगाजकरनेवालेथे,लेकिनअबप्रशासनकेसख्तरवैये केचलतेसीमितलोगोंकीबीचहीरैलीकोसंबोधितकरनाहोगा.

प्रगतिशीलसमाजवादीपार्टीयहींसेअपनामिशन-2022काआगाजकररहीहै.23दिसंबरकोइटावामेंपूर्वपीएमचौधरीचरणसिंहकेजन्मदिनपरएककार्यक्रमतयकियागयाहै.इसकेबादशिवपालयादव24दिसंबरसेयूपीकेगांव-गांवकीपदयात्रापरनिकलेंगे,जोप्रदेशभरमें6महीनेतकचलेगी.इसकेलिएबाकायदाएकप्रचाररथभीतैयारकियागयाहै,जिससेशिवपालयादवयूपीभरमेंयात्राकरेंगे.

बतादेंकिसपाप्रमुखअखिलेशयादवनेकुछदिनपहलेकहाथाकि2022केविधानसभाचुनावमेंछोटेदलोंकेसाथहाथमिलायाजाएगा,लेकिनकिसीभीबड़ेदलसेकोईगठबंधननहींहोगा.इसदौरानउन्होंनेअपनेचाचाशिवपालयादवकीपार्टीसेगठबंधनकोलेकरकहाथाकिउसपार्टीकोभीएडजस्टकरेंगे.जसवंतनगरउनकी(शिवपाल)सीटहै.समाजवादीपार्टीनेवहसीटउनकेलिएछोड़दीहैऔरआनेवालेसमयमेंउनकेलोगमिलें,सरकारबनाएं,हमउनकेनेताकोकैबिनेटमंत्रीभीबनादेंगे.इससेज्यादाऔरक्याएडजस्टमेंटचाहिए?हालांकि,अखिलेशकेइसऑफरकोशिवपालयादवनेअस्वीकारकरदियाहैऔरअपनाअलगगठबंधनबनानेकीबातकहीहै.

शिवपालकागठबंधनप्लान

उत्तरप्रदेशकेपांचछोटेदलोंनेबड़ेदलोंकेसाथजानेकेबजायआपसमेंहीहाथमिलाकरचुनावीमैदानमेंउतरनेकाफैसलाकियाहै.शिवपालयादवनेसाफकहाहैकिवोअपनेचुनावनिशानपरहीचुनावीमैदानमेंउतरेंगे.उन्होंनेसूबेकेछोटे-छोटेदलोंकेसाथगठबंधनकरनेकीबातकहीहै.ऐसेमेंमानाजारहाहैकिहालहीमेंसुहेलदेवभारतीयसमाजपार्टीकेराष्ट्रीयअध्यक्षओमप्रकाशराजभरकेनेतृत्वमेंबनेभागीदारीसंकल्पमोर्चाकेसाथहाथमिलासकतेहैं.

हालहीमेंशिवपालयादवऔरओमप्रकाशराजभरकेबीचमुलाकातहुईहै.इसकेअलावाAIMIMकेचीफअसदुद्दीनओवैसीनेभीशिवपालयादवकेसाथगठबंधनकरनेकेसंकेतदिएहैं.वहीं,पिछलेदिनोंशिवपालयादवभीओवैसीकीतारीफकरचुकेहैं.राजभरसूबेमेंछोटेदलोंकेसाथमिलकरएकराजनीतिकविकल्पतैयारकरनेमेंजुटेहैं.

ओमप्रकाशराजभरकीअगुवाईमेंबाबूसिंहकुशवाहाकीजनाधिकारपार्टी,अनिलसिंहचौहानकीजनताक्रांतिपार्टी,बाबूरामपालकीराष्ट्रउदयपार्टीऔरप्रेमचंद्रप्रजापतिकीराष्ट्रीयउपेक्षितसमाजपार्टीनेभागीदारीसंकल्पमोर्चाकेनामसेनयागठबंधनतैयारकियाहै.ऐसेमेंशिवपालयादवऔरओवैसीकीपार्टीकीभीइसगठबंधनमेंराजनीतिकएंट्रीहोसकतीहै.

शिवपालऔरराजभरसाथआएंगे?

राजभरउत्तरप्रदेशमेंअतिपिछड़ोंकीराजनीतिकरनेकेलिएजानेजातेहैंतोओवैसीनेबिहारचुनावकेबादहैदराबादनगरनिगमकेचुनावमेंभीइसबातकोसाबितकियाहैकिमुस्लिममतदाताउनकेसाथखड़ेहैं.इससेपहलेबिहारचुनावमेंबनेग्रैंडडेमोक्रेटिकसेक्युलरफ्रंटमेंभीओवैसीऔरराजभरसाथथे.

यूपीमेंपिछड़ोंकीआबादी50फीसदीसेज्यादाहै.इसआबादीमेंताक़तवरमानेजानीवाली पश्चिमीउत्तरप्रदेशकीजाट-गुर्जरऔरपूरेप्रदेशमेंफैलीयादव-कुर्मीआबादीकोछोड़देंतोओमप्रकाशराजभरपूर्वांचलकेइलाक़ेमेंबिंद,निषाद,मल्लाह,कश्यप,कुम्हार,राजभर,प्रजापति,मांझी,पाल,कुशवाहाआदिअतिपिछड़ीजातियोंकेवोटोंकोअपनेपालेमेंकरसकतेहैं.

राजभरकहतेरहेहैंकिपिछड़ोंके27प्रतिशतआरक्षणकोतीनहिस्सोंमेंबांटाजाए.इसमेंपिछड़ा,अतिपिछड़ाऔरमहापिछड़ाकोआबादीकेहिसाबसेआरक्षणदियाजाए.इसीवजहसेवहबीजेपीसेलड़ते-झगड़तेरहेऔरबादमेंअलगहोगए.राजभरकाकहनाहैकिइनजातियोंकोपिछड़ोंकेआरक्षणकासहीहक़नहींमिलपायाऔरयेहमेशावंचितहीरहीं.ऐसेमेंयूपीकीतमामपिछड़ीजातियोंकोआपसमिलाकरचुनावीमैदानमेंउतरनेकीरणनीतिहै.